शाला प्रवेशोत्सव कार्यक्रम – कुनबी समाज की महिलाओं ने बच्चों को भेंट की शिक्षण सामग्री

Scn news india
 
राजेश साबले जिला ब्यूरो 
 
कुनबी समाज की महिलाओं ने बच्चों को भेंट की शिक्षण सामग्री
 ग्राम बयावाड़ी की माध्यमिक शाला में मनाया प्रवेशोत्सव कार्यक्रम
बैतूल। आमची मानी आमची संस्कृति भगिनी समिति ने सोमवार को ग्राम बयावाड़ी के माध्यमिक शाला में पहुंचकर बच्चों का प्रवेश उत्सव मनाया। इस अवसर पर समाज की महिलाओं ने स्वागत द्वार पर बच्चों को तिलक लगाकर, पुष्प माला पहनाकर, आरती उतारी और उनका भव्य स्वागत किया।
इस दौरान स्कूल में समारोह आयोजित किया गया। सर्वप्रथम माध्यमिक शाला के प्रधान पाठिका विद्या बाला गायकवाड ने मां सरस्वती के छायाचित्र समक्ष दीप प्रज्वलित एवं माल्यार्पण कर कार्यक्रम की शुरुआत की।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महिला संगठन की अध्यक्ष रेखा बारस्कर ने स्कूल की सभी शिक्षक शिक्षिकाओं को नई उर्जा, नए संकल्प के साथ बच्चों को शिक्षा प्रदान करने प्रेरित किया। पूर्व उपाध्यक्ष अलका साबले ने कहा कि आज के बच्चे कल का भविष्य है। वे पढ़ेंगे तो आगे बढ़ेंगे। मौके पर वर्तमान उपाध्यक्ष जमुना पंडाग्रे ने वैश्विक महामारी कोविड-19 के चलते शिक्षा के स्तर में आई गिरावट को सुधारने की बात कही। संरक्षक सदस्य कल्पना धोटे, जयाताई मानकर ने कहा कि विद्यार्थियों को अपनी रुचि, विषय पर अपनी पकड़ तथा समय की मांग के अनुसार ही अपना लक्ष्य तय करना चाहिए और उसके अनुसार ही कैरियर प्लानिंग करनी चाहिए।
–बच्चों ने दी सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति–
समारोह के दौरान माध्यमिक शाला बयावाड़ी के बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी, जिसने सभी का मन मोह लिया। समारोह के दौरान समिति की महिलाओं ने बच्चों को शिक्षण सामग्री भेंट की। कार्यक्रम के अंत में प्रमोदिनी झरबड़े ने कुनबी समाज की महिलाओं का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर कोषाध्यक्ष लता कनाठे, सह उपाध्यक्ष वंदना काले, संयुक्त सचिव कल्पना चढोकार, पूर्व सहसचिव लता चढ़ोकार, छाया कवड़कर, अर्चना बर्डे उपस्तिथ रही।