सरपंच का चुनाव जीत चुके प्रत्याशी ने भाभी को हारता देख किया बूथ पर कब्जा करने के प्रयास-मामला दर्ज

Scn news india

मनोहर

प्रदेश में चल रहे दूसरे चरण के शांतिपूर्ण मतदान में नर्मदापुरम के सिवनी मालवा ग्राम बांकाबेड़ी मतगणना के दौरान  उत्पात मचाने पर भाजपा मंडल अध्यक्ष वरुण रघुवंशी, जसवंत रघुवंशी, सिद्धार्थ रघुवंशी, शिवम रघुवंशी, लक्की राठौर, संत कुमार दरोई सहित अन्य 10 से 15 अज्ञात आरोपियों के खिलाफ थाना सिवनीमालवा में धारा 147,148, 294, 506, 353, 332, 186, 204 लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 135, 136, एससी, एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया।

बता दे कि दिन भर शांतिपूर्ण चले मतदान के बाद शाम 4 बजे से शुरू हुई मतगणना के बाद कई मतदान केंद्रों पर विवाद की स्थिति बन गई। रात लगभग 9 बजे सिवनीमालवा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम बांकाबेड़ी में सरपंच चुनाव की मतगणना तो शांति से हो गई, जिसमें भाजपा ग्रामीण मंडल अध्यक्ष वरुण रघुवंशी सरपंची का चुनाव जीत गये। लेकिन जब जनपद पंचायत के वार्ड 19 के जनपद सदस्य की मतगणना चल रही थी, तभी प्रत्याशी रानी जसवंत पटैल के परिजनों ने बूथ कैप्चरिंग करने का प्रयास किया और मतपत्र को फाडऩे के साथ साथ ड्यूटी पर तैनात इंस्पेक्टर सहित 4 पुलिसकर्मियों और पीठासीन अधिकारी सहित दल के सदस्यों के लाठी डंडों से मारपीट भी की गई।

भाजपा के ग्रामीण मंडल अध्यक्ष वरूण रघुवंशी बांकाबेड़ी पंचायत से सरपंच का चुनाव जीत चुके थे। लेकिन अपनी भाभी रानी जसवंत पटेल के जनपद सदस्य की मतगणना के दौरान हारता देख मंडल अध्यक्ष ने बूथ पर कब्जा करने के प्रयास करते हुए मतपत्र फाड़ दिए। घटना की जानकारी लगते ही रात लगभग 10 बजे मौके पर प्रशासनिक अधिकारियों के साथ साथ भारी पुलिस बल भी पहुंच गया था। केंद्र पर तैनात मतदान कर्मियों ने बताया की रात लगभग 9 बजे के करीब मतदान दल बस के आने का इंतजार कर रहा था, इसी वक्त भाजपा ग्रामीण मंडल अध्यक्ष वरुण पटेल 15-20 साथियों के साथ मतदान केंद्र पहुंचा।

पीठासीन अधिकारी पर दोबारा मतगणना करने का दबाव बनाने लगा। दल के इंकार करने पर वरुण पटेल ने अपने साथ बड़ी संख्या में समर्थकों को लाकर मतदान की पेटी को छुड़ा लिया और मतपत्र निकालकर फाड़ कर फैला दिए और केंद्र पर सबसे मारपीट कर तोडफ़ोड़ की गई। बूथ पर कब्जा करने की घटना की सूचना लगते ही पूरा प्रशासन हरकत में आया और कलेक्टर नीरज सिंह और एसपी गुरकरण सिंह भी देर रात बांकाबेड़ी पहुंचकर गांव में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया और मतदान कर्मियों व मतपेटियों को रवाना कराया। देर रात 3 बजे इस मामले में सिवनीमालवा थाने में मामला दर्ज किया गया है।