“सांख्यिकी दिवस” आज ‘सतत विकास के लिए डेटा’ थीम पर मनाया जाएगा

Scn news india

मनोहर

सांख्यिकी और आर्थिक नियोजन के क्षेत्र में प्रोफेसर (दिवंगत) प्रशांत चंद्र महलनोबिस के किए गए उल्लेखनीय योगदान के सम्मान में भारत सरकार ने उनकी जयंती के अवसर पर प्रत्येक वर्ष 29 जून को “सांख्यिकी दिवस” ​​के रूप में नामित किया है जिसे राष्ट्रीय स्तर पर मनाए जाने वाले विशेष दिवसों की श्रेणी में रखा गया है। इस दिवस का उद्देश्य सामाजिक-आर्थिक योजना और नीति निर्धारण में सांख्यिकी की भूमिका और इसके महत्व के बारे में प्रोफेसर (दिवंगत) महलनोबिस से प्रेरणा लेने के लिए विशेष रूप से युवा पीढ़ी में जन जागरूकता पैदा करना है।

इस वर्ष सांख्यिकी दिवस, 2022 का मुख्य कार्यक्रम सशरीर मौजूदगी-सह-आभासी मोड के माध्यम से आयोजित किया जा रहा है। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन (एमओएसपीआई) और योजना राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय में राज्य मंत्री राव इंद्रजीत सिंह हैं। इस अवसर पर पर प्रतिभागियों को राष्ट्रीय सांख्यिकी आयोग (एनएससी) के अध्यक्ष प्रो. बिमल कुमार रॉय; भारत के मुख्य सांख्यिकीविद् और सचिव, एमओएसपीआई डॉ. जी. पी. सामंत; भारतीय सांख्यिकी संस्थान के निदेशक प्रो. संघमित्रा बंद्योपाध्याय के भी संबोधित करने का कार्यक्रम है। इसके अलावा, केंद्रीय मंत्रालयों/विभागों के वरिष्ठ अधिकारी और अन्य हितधारक भी हाइब्रिड (अर्थात सशरीर मौजूदगी और आभासी दोनों) मोड के माध्यम से कार्यक्रम में भाग लेंगे।

सांख्यिकी दिवस हर साल समकालीन राष्ट्रीय महत्व के विषय के साथ मनाया जाता है। सांख्यिकी दिवस, 2022 का विषय ‘सतत विकास के लिए डेटा’ है।

इस अवसर पर सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय (एमओएसपीआई) आधिकारिक सांख्यिकीय प्रणाली को लाभान्वित करने वाले व्यावहारिक और सैद्धांतिक सांख्यिकी के क्षेत्र में उच्च गुणवत्ता वाले अनुसंधान के जरिए उत्कृष्ट योगदान को इस उद्देश्य के लिए स्थापित पुरस्कारों के माध्यम से मान्यता देता है। इस वर्ष आधिकारिक सांख्यिकी, 2022 में प्रो. पी. सी. महलनोबिस राष्ट्रीय पुरस्कार और सांख्यिकी, 2022 के क्षेत्र में आजीवन योगदान के लिए प्रो. पी. वी. सुखात्मे राष्ट्रीय पुरस्कार, 2022 की घोषणा कार्यक्रम के आयोजन के दौरान की जाएगी। सांख्यिकी दिवस की थीम पर स्नातकोत्तर छात्रों के लिए ‘ऑन द स्पॉट निबंध लेखन प्रतियोगिता, 2022’ के विजेताओं को भी सम्मानित किया जाएगा।

कार्यक्रम के तकनीकी सत्र के दौरान, मंत्रालय के अधिकारी कार्यक्रम के विषय पर एक संक्षिप्त प्रस्तुति देंगे, जिसके बाद अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों के विशेषज्ञ भाषण देंगे।