बादल छाए, रात में बढ़ी उमस, दोपहर बाद बौछारें पड़ने के आसार

Scn news india
बादल छाए रहने के कारण दिन का तापमान 36 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना रहने का अनुमान है।
भोपाल । अलग–अलग स्थानों पर सक्रिय छह मौसम प्रणालियों के कारण अब बंगाल की खाड़ी एवं अरब सागर से कुछ नमी मिलना शुरू हो गर्इ है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक रविवार से मध्य प्रदेश में वर्षा की गतिविधियों में बढ़ोतरी होने की संभावना है। राजधानी में भी गरज–चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। बादल बने रहने के कारण दिन का तापमान 36 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना रहने का अनुमान है। उधर पिछले 24 घंटों के दौरान रविवार सुबह साढ़े आठ बजे तक धार में 20.6, मंडला में नौ, रीवा में 8.6, उमरिया में 1.1, जबलपुर में 0.4 मिलीमीटर वर्षा हुई। खजुराहो में बूंदाबांदी हुई।
मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि रविवार को राजधानी का न्यूनतम तापमान 28.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस अधिक रहा। साथ ही यह शनिवार के न्यूनतम तापमान 25.2 डिग्री सेल्सियस की तुलना में 2.8 डिग्री सेल्सियस अधिक रहा। शनिवार को शहर का अधिकतम तापमान 37.1 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया था। यह सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस अधिक रहा था। साथ ही यह शुक्रवार के अधिकतम तापमान 37.5 डिग्री सेल्सियस के मुकाबले 0.4 डिग्री सेल्सियस कम रहा था। साहा के मुताबिक बादल छाए रहने के कारण रात के तापमान में बढोतरी हुई। रविवार को शहर में सुबह से ही बादल छाए हुए हैं। इस वजह से दिन के तापमान में गिरावट आने की संभावना है। दिन का तापमान 36 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना रहने का अनुमान है।
छह मौसम प्रणालियां सक्रिय
मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्व वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में हवा के ऊपरी भाग में एक द्रोणिका के रूप में बना है। दक्षिणी गुजरात से केरल तक एक अपतटीय द्रोणिका लाइन है। अरब सागर के महाराष्ट्र तट पर भी हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बना हुआ है। राजस्थान पर हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बना हुआ है। इस चक्रवात से लेकर पश्चिम बंगाल तक एक द्रोणिका लाइन बनी हुई है। ओडिशा में भी हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बना हुआ है। इन छह मौसम प्रणालियों के असर से कुछ नमी आने के कारण मध्यप्रदेश में कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ वर्षा हो रही है। रविवार से भोपाल, जबलपुर, रीवा शहडोल, इंदौर संभागों के जिलों में वर्षा की गतिविधियों में तेजी आने की संभावना है। राजधानी में दोपहर के बाद बौछारें पड़ सकती हैं।
Live Web           TV