बिना संस्कार के शिक्षा दिशा विहीन होती है -श्री वी डी त्रिपाठी

Scn news india

ब्यूरो रिपोर्ट 

सारनी  22 जून 2022 को आचार अभ्यास वर्ग का समापन हुआ पांच दिवसीय अभ्यास वर्ग में मुख्य अतिथि श्री वी डी त्रिपाठी समाजसेवी श्रीमती गीतांजलि वराठे पर्यावरणविद एवं समाजसेवी विशेष अतिथि श्री योगेंद्र ठाकुर सचिव सतपुड़ा शिक्षा समिति सारणी की उपस्थिति में समापन समापन सत्र संपन्न हुआ।
आज के सत्र में मुख्य अतिथि श्री वी डी तिवारी द्वारा क्रिया आधारित शिक्षा को समझाया गया एवं प्रयोग आधारित शिक्षा को महत्व देते हुए शिक्षण में इसका समावेश ए नी पी नवीन राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अंतर अंतर्गत करने पर बल दिया गया।

श्री त्रिपाठी जी ने संस्कार में शिक्षा ही वर्तमान की आवश्यकता है को कहा पांच दिवसीय वर्ग में शिक्षार्थियों द्वारा शारीरिक मानसिक बौद्धिक आध्यात्मिक दृष्टि से बच्चों को कुशलता के साथ शिक्षा और शिक्षण भी किया जा सके  का प्रशिक्षण प्राप्त किया एवं दिनांक 25 जून से नवीन शिक्षा सत्र प्रारंभ हो रहा है इसकी सूचना दी गई कार्यक्रम का संचालन सुश्री सरिता तिवारी ने किया।

वर्ग का प्रतिवेदन श्रीमती अनीता कोसे ने रखा एवं आचार्य की संकल्पना विद्यालय की संकल्पना श्रीमती प्रिया सहारे दीदी ने रखा अतिथियों द्वारा प्रयोग आधारित शिक्षा में प्रोजेक्टर प्रोजेक्ट एवं अनोवेशन बनाए गए जिसका अतिथियों ने अवलोकन किया अंत में सुश्री अंजली पाल दीदी द्वारा पांचों दिनों में पधारे अतिथियों का आभार अभिनंदन किया गया विद्यालय के प्राचार्य श्री चंद्रशेखर टैगोर द्वारा पांचो दिन पधारे अतिथियों का एवं प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष जिन बंधुओं का सहयोग मिला उन सब का विशेष रुप सेआभार विशेष रुप से सभी पत्रकार बंधुओं जिन्होंने अपने समाचार पत्रों में इस वर्ग के समाचारों को स्थान दिया उनका आभार व्यक्त किया गया इस प्रकार 5 दिन चले आचार अभ्यास वर्ग का समापन हुआ।

Live Web           TV