अग्निपथ योजना का विरोध, एनएसयूआइ ने दिया समर्थन एवं सौंपा ज्ञापन

Scn news india

संवाददाता सुनील यादव 

केंद्र सरकार की योजना अग्निपथ के विरुद्ध कटनी में भी विरोध प्रदर्शन हुआ। सैनिक परीक्षा की तैयारी कर रहे युवाओं के प्रदर्शन को एनएसयूआइ ने समर्थन दिया।फ़रेस्टर ग्राउंड से एसडीएम कार्यालय तक मार्च निकालकर वन्दे मातरम् के नारे लगते हुए,भारत माँ के झंडे के साथ समस्त छात्रों ने जमकर केंद्र की भाजपा सरकार के फ़ैसले के विरुद्ध आवाज़ बुलंद करते हुए एसडीएम कार्यालय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सम्बोधित ज्ञापन सौंपा।
जानकारी देते हुए एनएसयूआइ के राष्ट्रीय समन्वयक दिव्यांशु मिश्रा अंशू ने बताया की पूरे देश में अग्निपथ योजना का विरोध छात्र कर रहे है,सरकार की सोचने और फ़ैसले लेने की क्षमता शून्य हो चुकी है।इस निर्णय अनुसार तैयारी करने वाले छात्र को केवल 4 वर्ष की सेना की नौकरी में रखा जाएगा,जो की छात्र के भविष्य से खिलवाड़ करने के जैसा है।छात्र जो बचपन से ही सेना में भर्ती होकर अपने देश का नाम रोशन करने का सपना लिया होता है,वह इस निर्णय से दुखी है एवं खुद्को छला हुआ महसूस कर रहा है एवं दूसरी तरफ़ भाजपा के महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय का भर्ती परिस्कश में शामिल छात्रों को भाजपा कार्यालय की सुरक्षा करने की नौकरी देने जैसे बयान घोर निंदनीय है,सेना भर्ती को लेकर ऐसे बयानो के ख़िलाफ़ उनपर आपराधिक मुक़दमा दर्ज होना चाहिए।जिस प्रकार किसानो के दबाव में आकार सरकार ने 3 काले क़ानून वापस लिए उसी प्रकार देश भर में छात्रों के आंदोलन का समर्थन कर एनएसयूआइ भी इस क़ानून का विरोध कर छात्र हित एवं देश हित में इसे वापस कराएगी।
प्रदर्शन के दौरान एनएसयूआइ से शुभम मिश्रा,आशीष चतुर्वेदी,विकास दुबे,राहुल यादव एवं भर्ती परीक्षा देने के बाद निर्णय से पीढित छात्रों में श्रवण दुबे,प्रदीप साहू,विमल सूर्यवंशी,राम निषाद,राजू पटेल,अनिमेष त्रिपाठी,कुंदरम सिंह,अरुण सिंह,रवि शाह,संदीप पाल,सचिन पांडेय,आदेश रैक्वार सहित अन्य उपस्थित रहे।