निर्दलीय सीमा वार्ड 1 में मजबूती से उभरी भाजपा कांग्रेस कार्यकर्ताओं का समर्थन

Scn news india

मनोहर
ग्वालियर। वार्ड क्रमांक 1 से सीमा मिश्रा ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन फार्म भर दिया है, सीमा मिश्रा समाजसेविका है और महिलाओं के हित मे कार्य करती रहती है इसके साथ साथ सीमा मिश्रा के पति अरविंद मिश्रा भारतीय मजदूर संघ के कदावर नेता है मजदूरों के हित मे लड़ाई लड़कर सैकड़ो मजदूरों को न्याय दिलाया है और गरीब मजदूर वर्ग का समर्थन प्राप्त है, सीमा मिश्रा का निर्विवाद चेहरा साफ सुथरी छवि वार्ड के मजबूत प्रत्याशी के रूप में तेजी से नाम उभरा है।

सूत्रों की माने तो निर्दलीय पार्षद वर्तमान में भाजपा के जगत सिंह कौरव के 1 वर्ष पूर्व से लगातार भाजपा के कार्यक्रमों में जाकर कार्यकर्ताओं से यह कहना कि पार्टी टिकिट नही देगी तो वह निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे या कांग्रेस से चुनाव लड़ूंगा का प्रचार कर छेत्रिय विधायक प्रधुम्न सिंह तोमर एवं सांसद विवेक शेजलवरकर पर दबाब बनाकर टिकिट तो प्राप्त कर लिया लेकिन वार्ड क्रमांक 1 के प्रत्येक पोलिंग के कार्यकर्ताओं ने जब देखा कि भाजपा टिकिट के दावेदार सत्येन्द्र शर्मा, प्रयाग तोमर, मनीष शर्मा का टिकिट काटकर अनिता कौरव को टिकिट दिया जा रहा है तो भाजपा कार्यकर्ताओ ने गोपनीय बैठक आयोजित की जिसमे वार्ड के बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं की उपस्थिति में यह तय हुआ कि पार्टी ने गलत निर्णय लिया तो सीमा मिश्रा को निर्दलीय प्रत्याशी उतारा जाएगा और सभी कार्यकर्ता एक जुट होकर कार्य करके चुनाव जितवाएँगे इस बैठक की सूचना वार्ड के वरिष्ठ नेताओं ने ऊर्जा मंत्री प्रधुम्न सिंह तोमर एवं सांसद विवेक शेजलवरकर को पहुंचाई कि आप लोग उचित निर्णय ले और किसी दूसरे प्रत्याशी को टिकिट दे लेकिन जब भाजपा नेताओं ने कार्यकर्ताओं की बात को अनदेखा कर दिया और अनिता कौरव को प्रत्याशी घोषित कर दिया तो भाजपा के कार्यकर्ता लामबंद हो गए और सीमा मिश्रा को निर्दलीय फार्म भरवा दिया और अब चुनाव जिताने के लिए भाजपा कार्यकर्ता गोपनीय रूप से घर घर जाकर काम मे लग गए है, सीमा मिश्रा को भाजपा के असंतुष्ट कार्यकर्ताओ के समर्थन के साथ साथ कांग्रेस के असंतुष्ट कार्यकर्ताओं का साथ मिल रहा है जिससे वह मजबूत प्रत्याशी के रूप में चुनाव मैदान में है।