कच्चा रास्ता होने से 3 किलोमीटर पैदल चलकर एंबुलेंस तक पहुंचाया प्रसूता महिला

Scn news india

ओमकार पटेल बिछिया 

बेशक 21 वी सदी में इंटरनेट के माध्यम से एक सेकेण्ड में हजारों लाखों किलोमीटर दूर व्यक्ति को  संदेश भेजा जा सकता है।  लेकिन सिस्टम की नाकामी देखो की आज भी दूरस्थ अंचल अपनी बदहाली पर रो रहा है। जहाँ आज भी विकास किसी महापुरष के आने की राह तक रहा है। ये तस्वीर सूरतेहाल बताने के लिए काफी है। ये तो अच्छा है की कुछ लोगों में मानवता आज भी जिन्दा है। जिसकी वजह से लाचार और मजबूर लोग जिन्दा है।

घोघरी के बरहाटोला  में एक प्रस्तुति महिला सोनिया मरकाम  की  डिलीवरी की सूचना पर 108 एंबुलेंस कर्मी ईएमटी  राजेश, पायलट कोमल, योगेंद्र राजपूत के साथ मौके पर पहुंचे तो मरीज के घर पर कच्चा मार्ग था। जिसके चलते एंबुलेंस के कर्मचारियों ने प्रसूति महिला को खटिया पर लिटा कर खटिया सहित करीब 3 किलोमीटर पैदल चलकर एंबुलेंस तक पहुंचे। प्रसूता  महिला को 108 एंबुलेंस से तत्काल तलबपानी उप स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया।