पहली बारिश में एक बालक की मौत, रोड पर गिरे पेड़, बिजली गुल

Scn news india

राजेश साबले जिला ब्यूरो 

मानसून की  पहली बारिश में  सुबह 7:30 बजे आकाशीय बिजली गिरने से एक बालक की मौत हो गई प्राप्त जानकारी के अनुसार सलाई ढाना निवासी गुणवंत पिता भीकारी धाडसे  उम्र 12 वर्ष जो सुबह शौच के लिए बाहर जा रहा था तभी आकाशीय बिजली गिरने के कारण गुणवंत की मौके पर ही मौत हो गई. स्वच्छ भारत अभियान के तहत बनाए गए शौचालय अगर सही में बने होते तो आज गुणवंत की मौत नहीं होती।

अगर उसके घर में भी शौचालय होता तो वह बाहर शौच के लिए नहीं जाता और उसकी मौत नहीं होती और इधर पहली बारिश में ही बिजली विभाग की पोल खोल कर रख दी है बारिश शुरू होते ही सुबह से दोपहर 12:00 बजे तक बिजली गुल रही बिजली विभाग ने भरी गर्मी में लोगों को बहुत तकलीफ दी बारिश में बिजली व्यवस्था सुचारू रहेंगी लेकिन पहली ही बारिश है बिजली कंपनी की पोल खुल गई है बारिश शुरू होते ही पूरे क्षेत्र में बिजली गुल हो गई जिसके कारण नल जल व्यवस्था भी ठप रही और लोग दुनिया परेशान होते रहे आज तीसरी घटना में केरपानी से खेड़ी सावली गढ़ के बीच रोड किनारे तीन पेड़ गिर जाने के कारण आवागमन पूरी तरह बंद हो गया एशियन न्यूज़ में कुछ दिन पहले यह खबर प्रकाशित की थी रोड किनारे पेड़ों की जड़े खुल जाने से बड़ा हादसा हो सकता है इस खबर को प्रमुखता से छापी थी।

लेकिन वन विभाग ने इस खबर पर कोई ध्यान नहीं दिया अगर ध्यान दिया होता तो आज यह हादसा नहीं होता पेड़ गिरने के कारण घंटों ट्रैफिक जाम रहा गनीमत है कि पेड़ किसी राहगीर पर नहीं गिरा अन्यथा बड़ी घटना घट सकती थी अभी भी ऐसे कई पेड़ है जो धारा सही हो सकते हैं जिसके कारण आवागमन अवरुद्ध हो सकता है अगर समय रहते आज भी वन विभाग नहीं जाता तो इसके बहुत बड़े दुष्परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं और अंत में किसानों के चेहरे के लिए झमाझम बारिश होने से आज किसानों के चेहरे रौनक लौट आई है बारिश का इंतजार कर रहे किसान आज बारिश हो जाने से खुश दिखे