सुनार नदी किनारे लगा मेला बुंदेली गीतो एवं झूले का लिया लुफ्त

Scn news india

रविकांत बिदौल्या 

हटा – नगर हटा से महज पांच किलोमीटर दूर ग्राम हारट के पास सुनार नदी के भदभदा वाटर फाल किनारे हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी मकर संक्रांति पर्व पर मेले का आयोजन किया गया। मंगलवार एवं बुधवार को यहां भारी संख्या मे श्रद्धालु पहुंचे और नदी के तट पर मकर सक्रांति के पर्व पर आस्था की डुबकी लगाई। जिसमे युवा वर्ग ने पहले तो वाटर फाल में जमकर तैराकी का लुत्फ उठाया इसके उपरांत मेले घूमकर मनोरंजन किया। ज्ञात हो कि मेला वर्षो से सुनार नदी के किनारे इसी स्थान पर लगता है। जहां हटा सहित आसपास के सैकडों गावों के लोग मेला का आनंद लेने बडी संख्या मे पहुंचते हैं। वर्ष मे एक दिन लगने वाले इस मेले मे बच्चो मे बहुत उत्साह देखने मिलता है। मेले मे बंजारे समुदाय की महिलाएं झूला झूलने आती है। महिलाओ द्वारा झूला झूलने के साथ अपनी भाषा मे गीत गाती है। इसके साथ ही ग्रामीण अंचलो से आए लोग एकत्र होकर ढोलक और नगडिया की थाप पर बुंदेली गीत गाते देखने मिलते हैं। बुंदेली गीतो को सुनने ग्रामीणो का मजमा लगा रहता है।


इसी तरह सुनार नदी के कांटी घाट मे भी बुधवार को मेले का आयोजन हुआ मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर लगातार कई सालो से मेले का आयोजन किया जा रहा है। स्थान इतना सौदर्य भरा है जो एक बार पहुंच जाए उसका मन फिर से पहुचने के लिए उतावला बना रहता है। हटा निवासी कार्तिक साहू वंदना प्रवेन्द चौबे राकेश चमन अग्रवाल सोनू साहू गोलू रोहित अभिलाष शुभम रजक सुमित साहू ने बताया कि यहां पर अनेको मनभावने दृष्य है। जिस कारण बरबस ही बार बार आने का मन करता है। मेले मे सैकडों की तादाद मे लोग पहुंचे। मकर सक्रांति के पर्व पर आयोजित हुए उक्त मेलो में हटा पुलिस नगर निरीक्षक विजय कुमार मिश्रा के नेतृत्व में पुलिस प्रशासन द्वारा पूरी चाक चौबंद के साथ व्यवस्थाएं बनाई गई ताकि मेले मे पहुंचे लोगो को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published.