सारणी बचाओ संघर्ष समिति द्वारा सारणी बचाने के लिए विधायक को सौंपा ज्ञापन

Scn news india

ब्यूरो रिपोर्ट

  • सारणी बचाओ संघर्ष समिति द्वारा सारणी बचाने के लिए विधायक को सौंपा ज्ञापन
  • विधायक को अवगत कराया की रुकी हुई ग्रेजुएटी के कारण कर्मचारी कर रहे हैं सारणी से पलायन

सारणी क्षेत्र में लगातार हो रहे रिटायरमेंट के दौरान कर्मचारी अपने आवास छोड़कर जा रहे हैं जिसके कारण सारणी की रौनक ता कम होती जा रही है
और आवास खाली होने के तुरंत पश्चात इन आवासों में असामाजिक तत्वों का जमावड़ा भी हो जाता है कर्मचारी द्वारा आवास खाली करने का सबसे महत्वपूर्ण कारण यह है कि आवास नहीं खाली करने पर उसकी संपूर्ण ग्रेजुएटी बोर्ड द्वारा रोक ली जाती है अपने जीवन भर की पूंजी को रूकता देख कर्मचारी 3 महीने के भीतर ही आवास को खाली कर देता है जिसके कारण सारणी शहर उजड़ रहा है

सारणी शहर में जहां कभी 5000 कर्मचारी हुआ करते थे बढ़ते रिटायरमेंट और आवास खाली करने के कारण अब इस शहर में लगभग 825 कर्मचारी ही बचे हैं
आज क्षेत्रीय विधायक से मुलाकात कर उन्हें इस विषय को विस्तार से बताया गया जिस पर क्षेत्रीय विधायक द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुए ऊर्जा मंत्री एवं ऊर्जा सचिव को कर्मचारी द्वारा आवाज खाली किए बिना ही संपूर्ण ग्रेजुएटी के भुगतान किया जाए इस संबंध में पत्र लिखा ताकि सारणी का वैभव बना रहे इस अवसर पर समिति के संचालक अखिलेश तिवारी, भारतीय मजदूर संघ के के वरिष्ठ नेता महेंद्र सिंह ठाकुर, सहसंयोजक सुनील भारद्वाज, प्रचार सचिव विजय पंडलक, और ठेका श्रमिक संघ के सचिव विनोद भारती मौजूद रहे