पति के सरकारी आवास के बाहर 8 घंटे बैठे रही पत्नी और उसका मासूम, नही खोला दरवाजा

Scn news india

संवाददाता सुनील यादव 

कटनी। पति पत्नी के विवाद का एक अनोखा मामला प्रकाश में आया है। जहां पत्नी अपने पति से मिलने हर महीने पटना से कटनी पहुचती है लेकिन एक पति है जो घर में होने के बाद भी दरवाजा नही खोलता पत्नी को घर बाहर बैठे सुबह से शाम हो जाती है लेकिन पति का दिल नही पसीजता। हम बात कर रहें है।

पटना बिहार निवासी दंत चिकित्सक डॉ. सोनल सिंह की जिनका का विवाह मुजफ्फरपुर निवासी जो कि कटनी आयुध निर्माणी मे पदस्थ है मुकेश कुमार के साथ हुआ था। लेकिन शादी के बाद हुई पति-पत्नी की ऐसी अनबन हुई कि दोबारा पति ने सोनल की तरफ मुड़ कर नही देखा सोनल ने बताया कि वह वर्ष 2018 से अपने मायके में रह रही हैं। मुकेश कुमार की पत्नी सोनल के साथ एक मासूम भी शिवांश जिसकी परवरिश का बोझ अब सोनल पर है। सोनल हाल ही में एक बार फिर पति के सरकारी निवास पर दोपहर 12:00 बजे बच्चे के साथ पहुँची थी। लेकिन मुकेश कुमार द्वारा कमरे के दरवाजे को रात्रि 9.40 तक नहीं खोला गया। भूख प्यास से पूरा दिन उनके दरवाजे के सामने पड़ी रही।


डॉ सोनल ने बताया कि मेरे द्वारा लगातार निवेदन के पश्चात भी दरवाजा नहीं खुला।
पुलिस को दिए आवेदन में महिला ने कहा है कि मुकेश कुमार के द्वारा दूसरी शादी पहली पत्नी के रहते हुए कर ली गई है और दूसरी लड़की इनके आवास
मे हैं, इसलिए पुलिस के समक्ष भी इन्होंने दरवाजा नहीं खोला।

मुझे बार बार यह कह कर दबाब बनाया जा रहा कि मामला कोर्ट में है, अतः आप रहने की हकदार नहीं है।
महिला के अनुसार मुकेश कुमार के द्वारा मेरे विरुद्ध किसी तरह के न्यायिक आदेश अलग रहने के नहीं हैं इसलिए मेरा पत्नी होने के नाते व बच्चे का आवास में रहने का वैधानिक हक है। यह सोनल का कहना है।