अभी तीखे रहेंगे गर्मी के तेवर, खजुराहाे में पारा 45.8 डिग्री पर पहुंचा

Scn news india
मनोहर
 भाेपाल । वर्तमान में किसी प्रभावी मौसम प्रणाली के सक्रिय नहीं रहने के कारण मध्यप्रदेश में मौसम शुष्क बना हुआ है। नमी कम रहने के कारण गर्मी के तेवर भी तीखे बने हुए हैं।
मौसम विज्ञानियाें के मुताबिक सात जून तक मौसम का मिजाज इसी तरह बना रहने की संभावना है। इसके बाद नमी बढ़ने से मानसून पूर्व की गतिविधियाें में तेजी आने की संभावना है। उधर शुक्रवार काे मध्य प्रदेश में सबसे अधिक 45.8 डिग्री सेल्सियस तापमान खजुराहाे में दर्ज किया गया। खजुराहाे देश के सबसे गर्म शहराें में तीसरे नंबर पर रहा। नौगांव, खजुराहाे में लू चली। शनिवार काे भी सागर, रीवा, ग्वालियर, चंबल संभागाें के जिलाें में कहीं-कहीं लू चल सकती है।
मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक वर्तमान में बंगाल की खाड़ी में ताे दक्षिण-पश्चिम मानसून तेजी से आगे बढ़ रहा है, लेकिन अरब सागर में मानसून फिलहाल ठहरा हुआ है। इस वजह से वहां से नमी नहीं आ रही है। इस वजह से मध्य प्रदेश में मानसून पूर्व की गतिविधियाें में तेजी नहीं आ रही है।
मौसम शुष्क बना रहने के कारण तापमान बढ़ रहा है। शुक्रवार काे प्रदेश के 22 शहराें में तापमान 42 डिग्रीसे. से ऊपर बना रहा। राजधानी में अधिकतम तापमान 43.5 डिग्रीसे. रिकार्ड किया गया। गर्मी के इस तरह के तेवर अभी तीन-चार दिन तक बने रह सकते हैं।
ये मौसम प्रणालियां हैं सक्रिय
वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षाेभ जम्मू कश्मीर के आसपास ट्रफ के रूप में बना हुआ है। दक्षिण-पूर्वी उत्तर प्रदेश पर हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात बना हुआ है। इस चक्रवात से लेकर नागालैंड तक एक ट्रफ लाइन भी बनी हुई है। हालांकि कमजाेर मौसम प्रणालियाें के कारण वातावरण में नमी कम मिलने से तापमान में बढ़ाेतरी का सिलसिला शुरू हाे गया है।
शुक्रवार काे चार प्रमुख शहराें का तापमान
शहर अधिकतम न्यूनतम
भाेपाल 43.5 29.6
इंदौर 41.1 27.1
जबलपुर 44.5 29.5
ग्वालियर 44.5 28.2