गेट नहीं खुलने से कार में जिंदा जला इंजीनियर, पुणे से शादी में शामिल होने के लिए आये थे बैतूल

Scn news india
मनोहर
बैतूल। महाराष्ट्र के पुणे निवासी एक इंजीनियर की बैतूल में कार में जिंदा जलने से मौत हो गई है। इंजीनियर पुणे से विवाह समारोह में शामिल होने के लिए बैतूल आया था। शाम के समय वह घूमने के लिए कार से बैतूल रानीपुर रोड पर 12 किलोमीटर दूर स्थित हनुमान डोल की ओर गया था। इसी दौरान खमालपुर गांव के पास उसकी कार में आग लग गई। इंजीनियर ने कार से उतरने का प्रयास किया लेकिन कार के गेट नहीं खुलने से उसकी कार के भीतर ही जलने से मौत हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर विवेचना प्रारंभ कर दी है।
पेड़ से टकराने से लगी आग
रानीपुर थाना प्रभारी सरविंद धुर्वे ने बताया कि सुनील सिंडप्पा उम्र 39 साल निवासी बाकड़ पुणे (महाराष्ट्र) एक प्राइवेट कंपनी में इंजीनियर के रूप में पुणे में कार्यरत थे। वह शादी समारोह में शामिल होने के लिए बैतूल आए थे और गुरूवार रात्रि में वह कार से रानीपुर रोड पर घूमने के लिए अकेले ही निकल गए थे। जैसे ही उनकी कार खमालपुर के पास पहुंची अचानक कार अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गई और उसमें आग लग गई।
गेट नहीं खुलने से हुई मौत
ग्रामीणों ने बताया कि कार के पेड़ से टकराने के बाद लग आग को बुझाने के लिए उनके द्वारा प्रयास भी किया जा रहा था लेकिन इसी दौरान एक-एक कर टायर फटने लगे। वहीं धुआं ही धुआं हो गया था। इंजीनियर सुनील ने कार से बाहर निकलने का भरसक प्रयास किया लेकिन कार के गेट नहीं खुलने से उनकी जिंदा जलने से कार में ही मौत हो गई। सूचना मिलने पर रानीपुर पुलिस और डायल 100 सहित फायर वाहन मौके पर पहुंचा और आग पर काबू पाया लेकिन तब तक कार खाक में तब्दील हो चुकी थी।
पुणे की प्राइवेट कंपनी में बतौर इंजीनियर सुनील कुमार की ससुराल भी मोती वार्ड बैतूल की है। वह शादी समारोह में शामिल होने के लिए 29 मई को बैतूल आए थे। गुरूवार शाम को रानीपुर रोड पर घूमने के लिए जाते समय उनके साथ यह दुर्घटना घटित हुई जिसमें उनकी मौत हो गई। सुनील के रिश्तेदार घटनास्थल पर पहुंच गए हैं, उन्होंने शिनाख्त की है। पुलिस घटना की जांच कर रही है और शव का पोस्टमार्टम कराया कर शव परिजनों को सौंप दिया है।
रानीपुर थाना प्रभारी सरविंद धुर्वे ने बताया कि गुरूवार रात 8 बजे सूचना मिली थी कि खमालपुर के पास एक कार जल रही है। तत्काल हंड्रेड डायल की टीम रानीपुर पुलिस मौके पर पहुंची थी। घोड़ाडोंगरी से फायर ब्रिगेड बुलबाई गई और आग पर काबू पाया गया। कार पूरी तरह से जल कर खाक हो गई है। इस दुर्घटना में कार सवार की मौत हो गई है।