जय भवानी के उदघोष के साथ निकली शौर्य यात्रा

Scn news india

  • जय भवानी के उदघोष के साथ निकली शौर्य यात्रा
  • जिले के कोने कोने से आए क्षत्रियों ने लिया हिस्सा
  • यात्रा का जगह जगह हुआ स्वागत
  • हजारों की संख्या में छत्रिय समाज हुआ शामिल

भारत की माटी को अपनी वीरता से धन्य करने वाले महान योद्धा, वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप जी की 483 वीं जयंती क्षत्रियों समाज शौर्य दिवस के रूप में म ना रहा है। इसी कड़ी में छत्रिय समाज द्वारा विशाल शौर्य यात्रा निकाली गई। जय भवानी के उदघोष व केसरिया परचम लहराते हुए हजारों की संख्या में छत्रिय, छत्राणियों ने यात्रा में हिस्सा लिया। जुहला बाई पास से प्रारंभ हुई शौर्य यात्रा शहर के विभिन्न मार्गों का भृमण करते हुये ऑर्डनेंस फैक्ट्री राम मंदिर पहुँची जहाँ पर पूजन व अन्य कार्यक्रमों के उपरांत शौर्य यात्रा का समापन किया गया।
गाजे- बाजे, ढोल-नगाड़ों के साथ निकली शौर्य यात्रा देर शाम तक चलती रही। इस दौरान जोरदार आतिशबाजी भी की गई।
शौर्य यात्रा के मुख्य आयोजक माधवेंद्र सिंह गौतम ने यात्रा के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि महाराणा प्रताप जी व महाराजा छत्रसाल जी न केवल छत्रिय समाज बल्कि अखंड भारत के गौरव है, उनके बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता, इनके नाम लेने मात्र से देश प्रेम की भावना जागृत हो जाती है, और रगों में दौड़ते हुए खून की रफ्तार दोगुनी हो जाती है।
छत्राणियों में रहा उत्साह– शौर्य यात्रा में शहर के अलावा ग्रामीण छेत्रों से भी विशेष छत्रिय परिधान से सुसज्जित छत्राणियों ने पूरे उत्साह के साथ हिस्सा लिया।
यात्रा मीडिया प्रभारी सुजीत सिंह बैस ने बताया कि यात्रा को सफल बनाने में समाज के वरिष्ठ जनों के साथ- साथ, युवाओं व छत्राणियों का विशेष सहयोग मिला, शहर के अलाव बरही, विजयराघवगढ़, कैमोर, बड़वारा, बहोरीबंद, ढीमरखेड़ा, स्लीमनाबाद, रीठी, पन्ना, सतना, उमरिया सहित अन्य जगहों से छत्रिय समाज यात्रा के लिए एकत्र हुआ।
जगह-जगह हुआ स्वागत— शौर्य यात्रा को लेकर छत्रिय समाज के अलावा अन्य समाज में भी भरपूर उत्साह रहा, यात्रा का खिरहनी दुर्गा चौक, खिरहनी ओवर ब्रिज, चांडक चौक, आजाद चौक, मिशन चौक, भट्टामोहल्ला में पुष्प वर्षा, जलपान व आतिशबाजी कर के स्वागत किया गया।
यात्रा में मुख्य रूप से समाज के जगदीश सिंह भदौरिया, सोनू सोलंकी, विजय सिंह बघेल, पूर्व विधायक सौरभ सिंह सिसोदिया, विनय बहादुर सिंह सिसोदिया, ग्रामीण क्षेत्र से जयवंत सिंह चौहान, शैलेंद्र सिंह बघेल, रत्नेश प्रताप सिंह, उदयभान सिंह बैस(बरही), विपिन सिंह(लुरमी), श्री सिंह सोमवंशी, सीमा सिंह राजावत, चिंतन सिंह, शुभम प्रताप सिंह चंदेल, हरिओम सिंह चंदेल, अजय सिंह सोमवंशी, रेखा सिंह गौतम, सविता सिंह राठौर, मीना सिंह बघेल सहित अन्य वरिष्ठजनों की मौजूदगी रही।