रेत माफिया ने की वनरक्षक को कुचलने की कोशिश की

Scn news india

राजेश साबले जिला ब्यूरो 

जिले भर में रेत का अवैध खनन जोरों पर है। कहीं का कहीं  राजनैतिक संरक्षण एवं  प्रशासनिक लापरवाही के चलते खनन माफियाओ के हौसले बुलंद है।  घोड़ाडोंगरी वन परिक्षेत्र में रेत माफिया द्वारा वनरक्षक को कुचलने की कोशिश की सनसनी खेज घटना सामने आई है। बता दे की एकट्रेक्टर  रेत भरकर घोड़ाडोंगरी ला रहा था। जिसकी  गुप्त सूचना  मिलने के बाद वन विभाग तत्काल हरकत में आकर घेराबंदी करने मौके पर पहुंच गया। घेराबंदी कर वन परीक्षेत्र के वनरक्षक छुपकर ट्रैक्टर का इंतजार करने लगे ,जब ट्रैक्टर रेत भरकर घोड़ाडोंगरी रोड पर आया वन रक्षकों ने उसे रोकने की कोशिश की, लेकिन रेत माफिया ने जैसे ही  सड़क पर अमले को देखा ,वैसे ही रेत से भरा ट्रैक्टर रेत माफियाओं ने भगाने की कोशिश की।  लेकिन वह सफल नहीं हो पाया। वहीँ ट्रैक्टर रोकने की कोशिश में वनरक्षक कुमारी ललिता धुर्वे को  ट्रैक्टर चालक ने कुचल कर जान से मारने की कोशिश की। लेकिन वह सफल नहीं हो पाया और आगे जाकर ट्रैक्टर छोड़कर भाग गया।

इसके उपरांत वन रक्षकों ने ट्रैक्टर जप्त कर  अवैध उत्खनन कक्ष क्रमांक आर 0 ऐप 0356 में किया गया वनरक्षक ने अपनी आगे की कार्यवाही में वाहन चालक एवं वाहन मालिक का पता लगाया। वाहन मालिक दुर्गेश मालवीय घोड़ाडोंगरी एवं चालक नंदकिशोर सलाम बंदी ढाना बाजपुर के विरुद्ध भारतीय वन अधिकार 1927 के तहत अपराध प्रकरण क्रमांक 737 / 13 दिनांक 1/6 /2022 को मामला पंजीबद्ध किया गया। वहीँ शासकीय कार्य में बाधा डालने एवं वनरक्षक को जान से मारने के प्रयास करने हेतु पुलिस चौकी घोड़ाडोंगरी में मामला पंजीबद्ध किया गया है। रेत माफिया पर शिकंजा कसने में कुमारी ललिता धुर्वे वनरक्षक, रामदास धुर्वे ,वनरक्षक श्री मदन दातीर स्थाई कर्मी वन उपज जांचना का घोड़ाडोंगरी ने कार्यवाही की।