मकर संक्रांति पर भीमकुण्ड में शुरू हुआ मेला यातायात व्यवस्था के नाम पुलिस पर लगे वसूली के आरोप

Scn news india

प्रद्यूमन फौजदार
बडामलहरा/मकर संक्रांति के पावन अवसर पर विधानसभा क्षेत्र के पवित्र स्थल भीमकुण्ड में सैकडों लोगों ने डुबकी लगाई।प्रतिबर्ष की भांति इस बर्ष भी भीमकुण्ड में हजारों की तादाद में मकर संक्रांति के अवसर पर श्रद्धालुओं के पहुंचने का तांता लग गया है।तकरीबन 8 से 10 दिनों तक चलने वाले दर्शनीय स्थल भीमकुण्ड के प्रसिद्ध इस मेले में श्रद्धालुओं की जमकर भीड़ पहुंचती है।इस दौरान वैदिक संस्कृति के अनुसार न केवल धार्मिक अनुष्ठान सम्पन्न होते है बल्कि सप्ताह भर यज्ञ और कथा का आयोजन किया जाता है।

वहीं तरह-तरह की लगीं दुकानों से लोग जमकर खरीदी करते है। इस दर्शनीय स्थल भीमकुण्ड में सागर संभाग के अलावा बुंदेलखंड क्षेत्र के उत्तर प्रदेश से श्रद्धालु आते है। पुरातन कथाओं के अनुसार अज्ञात वास के दौरान पाण्डवों ने कुछ समय इसी स्थान पर व्यतीत किया पाण्डवों की माता कुंती को प्यास लगने पर महाबली भीम ने गदा के प्रहार से पानी का स्त्रोत बनाकर कुंती की प्यास बुझाई थी जिस कारण इस स्थान का महत्व और भी बढ़ जाता है।

जिससे इस स्थान पर भीड़ होना लाजिमी है।लेकिन मेले की व्यवस्था के नाम पर बाजना पुलिस जमकर वसूली अभियान चलाने में मशगूल हो गई है।इस सम्बंध में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राजाराम विश्वकर्मा ने पहले दिन से ही दुपहिया और चार पहिया वाहनों से 100 से 200 रुपयों की वसूली का आरोप लगाते हुये एसपी से शिकायत करने की बात कही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.