युवक की मौत से गुस्साए कर्मचारी , सीएंडडब्ल्यू आरओएच कार्यालय का किया घेराव

Scn news india

संवाददाता सुनील यादव 
मृतक के घर से एक सदस्य को नौकरी व दोषियों पर कार्रवाई की मांग पर अड़े
कटनी। आरओएच शेड में शटिंग के दौरान बैगन से टकराने के कारण सोमवार को नरेंद्र सिंह निवासी जालौन कानपुर उत्तरप्रदेश की मौत हो गई थी । सहकर्मी की मौत हो जाने व समय पर इलाज न मिलने सहित लापरवाही को लेकर 200 से अधिक ट्रेड अप्रेंटिस कर्मचारी भड़क उठे मंगलवार को सुबह से ही टूल – डाउन कर दिया गुस्साए ट्रेड अप्रेंटिस कर्मचारियों ने आरओएच कार्यालय का घेराव कर दिया लगभग तीन घंटे तक प्रदर्शन चलता रहा है ।

 

गुस्साए अप्रेंटिस कर्मचारियों ने अधिकारियों की लापरवाही के कारण यह हादसा हुआ है । अप्रेंटिस कर्मचारियों को ट्रेनिंग देने की बजाय 8 घंटे काम कराया जा रहा है । काफी देर तक प्रर्दशन करते रहे कर्मचारी इस पर अड़े रहे कि मृतक नरेंद्र के परिवार से किसी एक सदस्य को रेलवे में नौकरी दी जाए । इस मामले की गंभीरता को देखते हुए आवश्यकतानुसार जाँच कर दोषियों पर कार्यवाई कर अधिकारियो पर कार्यवाई की जानी चाहिए दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई की जानी चाहिए अप्रेंटिस कर्मचारियों ने चेताया है कि यदि कार्रवाई नहीं मामले होती तो वे डीआरएम कार्यालय तक जाएगे । सहकर्मी योगेश्वर शुक्ला ने कहा कि कर्मचारी बीच में फंस गया गंभीर चोट आई इसके बाद भी आधे घंटे तक बैठाया गया । एसएसी मैमो बनाया अस्पताल पहुंचे तो समय पर इलाज नही हुआ एक आदमी को नौकरी मिले
जांच हो और कार्रवाई हो । अप्रेंटिस कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जाए , न की पूरे समय काम कराया जाए । आशुतोष शर्मा ने कहा कि यह हादसा टेक्नीशियन की लापरवाही के कारण हुई है । उसके बाद भी उसे कोई उठाने वाला नहीं आया ।