स्वाधार गृह से दुल्हन बनकर विदा हुई प्रियंका, पीहु को मिला पिता का साया

Scn news india

हर्षिता वंत्रप चैनल हेड एससीएन न्यूज
सारनी -घर के आशियाने से बड़ा कोई सहारा नही है और ऐसा सुरक्षित आशियाना मिला प्रियंका और पिहु को ,यह कार्य सिध्द हुआ मकर संकृांति के दिन 15.01.2020 को स्वाधार गृह ग्राम भारती महिला मंडल शोभापुर कालोनी जिला बैतूल में निराश्रित पीड़ित सिवनी जिला कलेक्टर के आदेश से भेजी गई बालिका प्रियंका का विवाह हरदा निवासी जितेन्द्र बिश्रोई के साथ किया गया।

विवाह कार्यक्रम में वर वधू को आर्शीवाद प्रदान करने हेेतु श्रीमान महेन्द्र सिंग चौहान टी.आई सारनी श्रीमान बी.एल. बिश्रोई जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास विभाग बैतूल श्रीमान कमलेश सिंग भाजपा प्रशिक्षण विभाग के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य, श्रीमान अशोक पंवार युनियन बैक मैनेजर, श्रीमती पूनम तिवारी कांस्टेबल थाना सारनी श्रीमती काशी धाकड़ प्रभारी परियोजना अधिकारी महिला बाल विकास विभाग सारनी एवं संस्था पद्ाधिकारीयों के साथ साथ सारनी क्षेत्र के विभिन्न मीडिया प्रभारियों के आर्शीवाद से विवाह सम्पन्न हुआ तथा उपस्थित अतिथियों द्वारा वर वधू को आर्शीवाद दिया तथा उज्जवल भविष्य की कामना की साथ ही जितेन्द्र बिश्रोई के पिता ने 3 लाख की एफ डी आर प्रियंका को सौपा एवं प्रियंका पर 1 हैक्टर उपजाऊ कृषि भूमि की रजिस्ट्ऱी करवायेगा।

इस विवाह समारोह का विशेष आकर्षण प्रियंका की 8 माह की बेटी पीहू थी जितेन्द द्वारा पीहू को अपनाकर समाज में एक नई मिशाल कायम की श्रीमान उमेश बिश्रोई, उर्मीला बिश्रोई एवं स्वाधार गृह प्रबंधन द्वारा आर्य समाज चिचोली द्वारा विवाह पंजीकृत कराया गया शहर के वरिष्ठ नागरीको तथा अधिकारियों के आर्शीवाद से सफल विवाह कार्यक्रम आयोजन किया गया श्रीमती भारती अग्रवाल द्वारा बताया गया कि प्रियंका को घर मिला किंतु पीहू को घर के साथ साथ पिता का साया मिला जो सराहनीय कदम है।

 

स्वाधार गृह में निवासरत महिलाओं को सुरक्षित घरोंदा मिल जाये ंतो इससे अच्छा ओर कुछ नही हो सकता जितेन्द्र के पिता ने स्वाधार गृह प्रबंधन को प्रियंका एवं पीहू के सुरक्षित भविष्य को लेकर आश्वस्त किया एक बेसहारा बालिका स्वाधार में आई ओर दुल्हन के लिबास में जितेंन्द्र के साथ बिदा हुई तो प्रियंका के साथ साथ स्वाधार गृह में रहने वाली अन्य बालिकाओं एवं स्वाधार गृह प्रबंधन का पूरा स्टॉफ तथा उपस्थित लोगो की आंखे छलक पड़ी विवाह कार्यक्रम श्रीमती भारती अग्रवाल ने घराती बाराती का स्वागत ढोल ढमाको एवं स्वादिष्ट भोजन से किया। कार्यक्रम में श्रीमती मीनाक्षी नरवरे, योगमाया शर्मा, नंदा सोनी, ज्योति बागडें, शबनम शेख, रोशनी पीपले, एवं समस्त टीम का योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.