हमारा संकल्प है कोई भी गरीब धन के अभाव में इलाज से वंचित न रहे: मुख्यमंत्री श्री चौहान

Scn news india

मनोहर 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि हमारा संकल्प है कि धन के अभाव में कोई भी गरीब बिना इलाज के नहीं रहेगा। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू की गई आयुष्मान भारत योजना में सरकार जरूरतमंद गरीब मरीज का 5 लाख रूपए तक का नि:शुल्क इलाज निजी अस्पतालों में भी करा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जल्द ही प्रदेश में कई अस्पतालों का लोकार्पण और शिलान्यास राष्ट्रपति जी द्वारा होने जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान रविवार को ग्वालियर में देवराज इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस एवं अस्पताल के भूमि-पूजन समारोह को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल ग्वालियर-चंबल संभाग को नई दिशा देगा। साथ ही परोपकार की भावना के साथ ग्वालियर-चंबल संभाग सहित आस-पास के अन्य क्षेत्रों के आर्थिक रूप से कमजोर मरीजों को अत्याधुनिक चिकित्सा सुविधाएँ मुहैया करायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरी शुभकामनाएँ हैं कि यहाँ से पढ़कर निकले विद्यार्थी अच्छे डॉक्टर बनें। उन्होंने ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में निजी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल शुरू करने के लिये श्री करन सिंह किरार के प्रति आभार व्यक्त किया, जिन्होंने अपने पुत्र स्व. देवराज की स्मृति को चिर-स्थायी बनाने के लिये अस्पताल खोल कर जन-सेवा का संकल्प लिया है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि ग्वालियर की पवित्र धरती पर हम संकल्प लेते हैं कि ग्वालियर-चंबल संभाग के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी जायेगी। आजादी के अमृत महोत्सव की पुण्य-बेला में ग्वालियर के विकास के लिये स्वर्णिम काल चल रहा है। यहाँ जल्द ही एक हजार बिस्तर का अस्पताल शुरू होगा। साथ ही एलीवेटेड रोड, अत्याधुनिक एयरपोर्ट, केन्द्रीय स्तर की कृषि संस्थाएँ और अन्य विकास कार्य मूर्तरूप ले रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार का संकल्प है कि सभी के लिए रोटी, कपड़ा, पढ़ाई, लिखाई और रोजगार का इंतजाम हो।

Live Web           TV