मुख्यमंत्री श्री चौहान आज करेंगे मिशन नगरोदय का शुभारंभ

Scn news india

मनोहर 

भोपाल-मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान आज 17 मई को शाम 6 बजे कुशाभाऊ ठाकरे अंतर्राष्ट्रीय कन्वेंशन सेंटर, भोपाल में मिशन नगरोदय का शुभारंभ करेंगे। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान 21 हजार  करोड़ से अधिक के विभिन्न विकास कार्यों का वर्चुअल माध्यम से भूमि-पूजन, लोकार्पण, गृह-प्रवेश और हितग्राहियों को सिंगल क्लिक से राशि वितरण करेंगे। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान शासकीय योजनाओं के हितग्राहियों से संवाद भी करेंगे। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह और राज्य मंत्री श्री ओ.पी.एस. भदौरिया भी उपस्थित रहेंगे।

      मुख्यमंत्री श्री चौहान अमृत-2.0 में 12 हजार 858 करोड़ 71 लाख और स्वच्छ भारत मिशन-2.0 में 4 हजार 913 करोड़ 74 लाख रूपये की योजनाओं का शुभारंभ करेंगे।

      मुख्यमंत्री श्री चौहान प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के एक लाख 35 हजार हितग्राहियों को हित-लाभ वितरित करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान 25 हजार आवासों कुल लागत 962 करोड़ 50 लाख, में हितग्राहियों का गृह-प्रवेश, 80 हजार हितग्राहियों को 750 करोड़ रूपये की किश्तों का वितरण और 30 हजार आवासों कुल लागत 1155 करोड़ का भूमि-पूजन करेंगे। साथ ही कार्यक्रम में प्रधानमंत्री स्व-निधि योजना में एक लाख 65 हजार हितग्राहियों को 210 करोड़ रूपये का वितरण करेंगे। इनमें से प्रथम चरण के एक लाख 20 हजार हितग्राहियों को 120 करोड़ और द्वितीय चरण के 45 हजार हितग्राहियों को 90 करोड़ रूपये का वितरण होगा।

      मुख्यमंत्री श्री चौहान “मुख्यमंत्री संजीवनी क्लीनिक” के लिये 178 नगरीय निकायों को 113 करोड़ रूपये की राशि अंतरित करेंगे। इनमें से 611 नवीन मुख्यमंत्री संजीवनी क्लीनिक के निर्माण एवं पहले से संचालित 134 संजीवनी क्लीनिक एवं सिविल डिस्पेंसरी के उन्नयन के लिये दिये जायेंगे।

      मुख्यमंत्री श्री चौहान नगरीय क्षेत्रों में  विभाग द्वारा विकसित 460  करोड़ की लागत की पेयजल योजनाओं, स्मार्ट सिटी मिशन के 747 करोड़ रूपये और 1264 करोड़ रूपये के अन्य विकास कार्यों का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण भी करेंगे।

      कार्यक्रम का आयोजन प्रत्येक नगरीय निकाय में होगा। कार्यक्रम में जन-प्रतिनिधियों और विभिन्न शासकीय योजनाओं के हितग्राहियों को आमंत्रित किया जायेगा। कार्यक्रम का लाइव प्रसारण cmevents.mp.gov.in एवं क्षेत्रीय न्यूज चैनल तथा सोशल मीडिया के अन्य माध्यमों से भी किया जायेगा।