शादी का झांसा देकर नेत्रहीन युवती के साथ दुष्कर्म

Scn news india

मंडला

मंडला में पुलिस अधीक्षक ने तत्काल इस मामले को महिला थाने को सौपा। महिला थाने में आरोपी के विरुद्ध तत्काल मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गजेंद्र सिंह कँवर ने बताया कि पीड़ित युवती और आरोपी दोनों पहले से एक दूसरे को जानते थे। आरोपी पीड़ित के घर आता जाता था। दोनों जबलपुर में किसी नेत्रहीन विद्यालय में पढ़ते थे।

चूंकि आरोपी लगभग 20 प्रतिशत ही नेत्रहीन है इसलिए उसे थोड़ा बहुत दिखता है। वह पीड़ित युवती को अपने साथ जबलपुर आना जाना करता था। इसी दौरान उसने शादी का झांसा देकर नेत्रहीन युवती के साथ दुष्कर्म किया। जब वह शादी के लिए तैयार नहीं हुआ तो पीड़ित ने इस पूरे मामले में वन स्टॉप सेंटर की मदद ली। वन स्टॉप सेंटर की लीगल कॉउंसलर ने पूरे मामले की जानकारी पीड़ित युवती के साथ पुलिस अधीक्षक को दी। पुलिस अधीक्षक ने मामला महिला थाने को सौपा जिसके बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया।

अंशिता सिंह राजपूत, लीगल एडवाइजर, वन स्टॉप सेंटर, मंडला

गजेंद्र सिंह कँवर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, मंडला