सतना मैहर मार्ग SH-11 में मल्टीउर्बन कंपनी कर रही खनन हो रहे हादसे,प्रशासन कर रहा अनदेखी

Scn news india

दिवाकर पांडेय मैहर 

सतना मैहर मार्ग स्टेट हाईवे11 में रोड किनारे इन दिनों खनन करकें हादसे को आमंत्रित किया जा रहा है,मैहर बाबा तालाब के पास मल्टीउर्बन कंपनी द्वारा SH-11 मार्ग के सोल्डर को खोदा जा रहा है और मिट्टी बीच सड़क पर फेंकी जा रही है जिससे कभी भी कोई बड़ा भीषण हादसा हो सकता है वही 2 दिन पहले हुए हादसे में एक व्यक्ति की मौके में मौत हो गई,अधिकतर देखा जा सकता है ऐसी खननकर्ता कंपनी के द्वारा कार्य करने के बाद हादसे हो जाते है और लोग अधिकारी नेता टोल कंपनी को दोषी बनाने लगते हैं जबकि कई बार टोल कंपनी के जिम्मेदारों ने लिखित शिकायत देकर रोड किनारे हो रहे खनन से प्रशासन को अवगत कराया है लेकिन प्रशासन रोड किनारे खनन कर रहे लोगों के ऊपर कार्यवाही नहीं कर पा रहा!


मैहर नगर के अंदर आए दिन बड़े बड़े हादसे होते हैं लोगों की जान चली जाती है उसके बाद भी प्रशासन द्वारा कोई ऐसा ठोस निर्णय नहीं किया जा रहा कि हादसों में कमी लाई जा सके,बाबा तालाब के पास रोड किनारे हो रहे खनन की अगर जांच हो तो बिना एमपीआरडीसी विभाग की स्वीकृति के खनन होना पाया जा सकता है इस विषय पर जब हमने सतना उमारिया मार्ग SH-11 में लगे टीबीसीएल टोल के जनरल मैनेजर से मौखिक बात की तो उन्होंने बताया एमपीआरडीसी विभाग और जिला प्रशासन के निर्देश से हम सतना उमारिया मार्ग में कार्य कर रहे है रोड के सोल्डर को जबरदस्ती कुछ लोग खोद के रफूचक्कर हो जाते है जिसकी जानकारी हमने लिखित रूप से सभी जिम्मेदारों को दी है!
अब सवाल यह उठ रहा है कि हादसों के बाद दूसरे के सिर में आरोप मढ़ने की जगह जिम्मेदारों द्वारा क्यों रोड किनारे हो रहे खनन पर प्रतिबंध नहीं लगाया जा रहा है अगर रोड किनारे हो रहे खनन पर प्रतिबंध न लगाया गया तो हादसे होने पर समय से कार्यवाही न करने वाला सरकारी तंत्र दोषी को कहा जा सकता है|