कांग्रेस ने जनता की पीठ पर छुरा घोंपा — सत्येन्द्र शर्मा

Scn news india

मनोहर 

  • कांग्रेस में पड़ी मरी सबको अपनी-अपनी पड़ी,
  • खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे,
  • कांग्रेस ने जनता की पीठ पर छुरा घोंपा — सत्येन्द्र शर्मा

ग्वालियर। भारतीय जनता पार्टी जिला ग्वालियर महानगर के जिला मंत्री सत्येन्द्र शर्मा ने कहा कि कांग्रेस में पड़ी मरी सबको अपनी-अपनी पड़ी आजकल यही हाल हो गया है कांग्रेस का कांग्रेस में गुटबाजी चरम पर मध्यप्रदेश में कांग्रेस का मुख्यमंत्री चेहरा बनने के लिए एक और तो कमलनाथ हैं तो दूसरी ओर दिग्विजय सिंह हैं यह बात को सिद्ध स्वयं दिग्विजय सिंह करते हैं अपने एक बयान में जिसमें वह कहते हैं वी डी शर्मा जी एवं शिवराज सिंह चौहान जी के बारे में यानी कि मध्यप्रदेश में इस समय कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ हैं तो क्या दिग्विजय सिंह जी अपने आप को संभावित कांग्रेस के मुख्यमंत्री चेहरे के रूप में पेश करना चाहते हैं।

सत्येन्द्र शर्मा ने कहा कि मध्य प्रदेश मैं कांग्रेस खस्ताहाल थी 15 साल से कांग्रेस बनवास को भोग रही थी तब राष्ट्रीय नेतृत्व ने मध्य प्रदेश में सरकार लाने के लिए श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया जी को जवाबदारी देते हुए मध्य प्रदेश चुनाव अभियान समिति का अध्यक्ष बनाया था, श्रीमंत महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया जी ने जिम्मेदारी को बख़ूबी निभाते हुए रात दिन एक कर हजारों किलोमीटर की यात्रा कर परिवर्तन यात्रा निकाली और संकल्प लिया कांग्रेस की सरकार बनाने का जिसके परिणाम स्वरूप मध्य प्रदेश की जनता ने श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया जी को मुख्यमंत्री चेहरा बतौर देखते हुए जबरदस्त बंपर वोटिंग श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया जी के लिए की जिसके परिणाम स्वरुप मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी लेकिन जब मुख्यमंत्री बनाने का वक्त आया तब कांग्रेस के नेताओं ने षड्यंत्र कर हाईकमान के द्वारा श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया जी को मुख्यमंत्री ना बनाते हुए कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनाकर प्रदेशवासियों से धोखा दिया और मध्य प्रदेश की जनता की पीठ पर छुरा खोपा कांग्रेस को इसका परिणाम आज नहीं तो कल मिलना ही था, कांग्रेस पार्टी ने मध्य प्रदेश की जनता की पीठ में छुरा घोंपा था और प्रदेश का मुख्यमंत्री महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया जी को ना बनाते हुए कमलनाथ को बना दिया और जब सरकार बनी तो पर्दे के पीछे से दिग्विजय सिंह मध्य प्रदेश की सरकार को चला रहे थे यह भी प्रदेश की जनता से धोका था, जनता जनार्दन के विश्वास पर खरा उतरने के लिए जनता की मंशा अनुरूप श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया जी ने निस्वार्थ भाव से कांग्रेस पार्टी से त्यागपत्र दिया और भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए, उप चुनाव में जनता जनार्दन ने कांग्रेस के द्वारा धोखा देने पीठ में छुरा घोंपे जाने का बदला लेते हुए कांग्रेस के मुंह पर करारा तमाचा मारा और कांग्रेस को जड़ से उखाड़ के फेंक दिया भारतीय जनता पार्टी की जीत हुई यह जीत जनता जनार्दन की जीत थी और यह सिद्ध हुआ कि जनता जनार्दन श्रीमन्त ज्योतिरादित्य सिंधिया जी के साथ है।
मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार लगातार जनता हित में कार्य कर रही है।
आज कांग्रेस के नेताओं को 70 साल की विफलताओं को गिनाने का समय नहीं है अपनी विफलताओं को छुपाने के लिए, अपने भ्रष्टाचार को छुपाने के लिए, अपनी नकारा नीतियों को छुपाने के लिए कांग्रेस के नेताओं के पास श्रीमंत महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया जी को कोसने के अलावा कोई विकल्प नहीं है जनता सब देख रही है जनता सब जानती है और जनता ही जनार्दन हैं।
जनता जनार्दन ने फैसला दिया है महाराजा ज्योतिरादित्य सिंधिया जी के हक में उप चुनाव में प्रचंड मतों से विजई बनाकर यह सिद्ध कर दिया है कि मध्य प्रदेश की जनता भारतीय जनता पार्टी में पूर्ण विश्वास करते हुए श्रीमंत ज्योतिराज सिंधिया जी के द्वारा लिए गए निर्णय के साथ हैं।

जिला मंत्री सत्येन्द्र शर्मा ने कहा कि कांग्रेस के नेताओ की हालत आज खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे जैसी हो गई है और बात बात में हर बैठक में, घर में, बाहर, सब जगह, पार्टी दफ्तर हो या कांग्रेस नेताओं की चर्चा जब तक पूरी नहीं होती जब तक हमारे नेता श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया जी का नाम ना ले ले।
कांग्रेस पार्टी बार-बार महाराज साहब का नाम लेकर पश्चाताप कर रही है अब पश्चाताप करने से कुछ नहीं होगा क्योंकि कांग्रेस ने प्रदेश की जनता को धोखा दिया है समय निकल चुका और रेत की तरफ हाथ से सरकार सरक गई और अब जनता भारतीय जनता पार्टी की सरकार के साथ है श्रीमन्त ज्योतिरादित्य सिंधिया जी के निर्णय के साथ है।

कांग्रेस के नेतागण आपस में बैठकर यह तो तय कर ले उनका नेता कौन है क्या उनका नेता माननीय दिग्विजय सिंह जी जो चुनाव की सभा नहीं लेते क्योंकि जिस विधानसभा में माननीय दिग्विजय सिंह जी सभाएं लेंगे उसमें पहली बात तो जनता नहीं आएगी क्योंकि जनता दिग्विजय सिंह जी के चेहरे से नफरत करती है जनता इसलिए नफरत करती है कि मध्य प्रदेश जनता के साथ कुठाराघात किया जनता के साथ गलत फैसले लिए इसलिए दिग्विजय सिंह को जनता नकार चुकी है और जिस विधानसभा सीट में प्रचार करने जाएंगे वहां पर बंटाधार कर देंगे और कम से कम 15000 से 20000 वोट कांग्रेस का हार का मार्जिन बढ़ जाएगा इसीलिए कांग्रेस पार्टी दिग्विजयसिंह को चुनावी आमसभा में सम्मिलित होने का मौका नहीं देती सबसे पहले कांग्रेस यह तय करें कि उसका चेहरा कौन है क्या माननीय कमलनाथ जी चेहरा है जो कि व्यापार में ही व्यस्त रहते हैं इसीलिए उनके पास विधानसभा में जाने का समय नहीं है जिस व्यक्ति के पास मध्य प्रदेश का मंदिर विधानसभा में जाने का समय नहीं है, विधानसभा लोकतंत्र का मंदिर है जिसमें बैठकर जनता के चुने हुए जन प्रतिनिधि जनता के हितों में फैसले लेते है, कमलनाथ जी जनता की सेवा क्या करेंगे पहले अपने व्यापार से तो फुर्सत मिल जाये।

जिला मंत्री सत्येन्द्र शर्मा ने कहा कि मध्य प्रदेश की जनता की चिंता करने के लिए केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्रीमंत महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया जी हैं वह हमेशा जनता के सुख दुख में सहभागी रहते हैं और इसी विशाल हृदय की वजह से जनता जनार्दन उनको महाराज कहती है।

सत्येन्द्र शर्मा ने कहा कि कांग्रेस सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के उल्टे सीधे पोस्टर बनाकर चुपचाप टांग देती है और वीडियो बनाकर वायरल कर देती इस तरह की ओझी हरकतें कांग्रेस मानसिकता को जगजाहिर कर रही है खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे जनता सब देख रही है आने वाले 2023 विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी प्रचंड मतो से विजय होगी और कांग्रेस की सीटें वर्तमान की सीटों से भी कम रह जाएंगी कांग्रेस की सीटें 25 की संख्या भी पार नहीं कर पायेगी।