चक्रवात ‘Asani’ को लेकर अलर्ट जारी, 17 से अधिक राज्यों में 11 मई तक बारिश की चेतावनी, 10 क्षेत्रों में लू की आशंका

Scn news india
मनोहर
अगले दो से तीन दिनों के दौरान बीकानेर और जोधपुर संभाग के जिलों में भी अपेक्षाकृत तेज धूल भरी हवाएं और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है।
नई दिल्ली। देश के हिस्से में Weather Alert देखने को मिलेगा। जहां हीटवेव का अलर्ट (heatwave alert) जारी किया गया है वहीं दूसरे हिस्से में बारिश का दौर (rain alert) जारी रहेगा। IMD Alert के मुताबिक चक्रवात असानी (cyclonic Asani) की वजह से 17 से अधिक राज्य में बारिश का अलर्ट जारी किया है। पूर्वी और दक्षिणी राज्य में बारिश के साथ-साथ उड़ीसा सहित उत्तर-पूर्व के राज्यों में मौसम में बदलाव की स्थिति देखने को मिल सकती है। हालांकि साथ ही राजधानी दिल्ली, मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात में हीटवेव की चेतावनी दी गई है। उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में भी गर्मी चलेगी। हालांकि कई राज्यों के तापमान (temperature) में बदलाव देखने को मिले हैं। तापमान में तीन से चार डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है।
Cyclone Asani
पोर्ट ब्लेयर (अंडमान द्वीप समूह) से लगभग 380 किमी पश्चिम में एक चक्रवाती तूफान ‘Asani’ के रूप में डीप डिप्रेशन तेज हो गया है। उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने के लिए और अगले 24 घंटों के दौरान पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक गंभीर चक्रवाती तूफान में तेज हो गया है।
भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने 8 मई से उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत में फिर से हीटवेव की भविष्यवाणी की है। मौसम कार्यालय ने कहा कि आज से भारत के कई हिस्सों में हीटवेव की स्थिति शुरू होने की संभावना है। इसके अलावा चक्रवात असानी का असा दिखने लगा है। कई राज्यों में बादल घिरने के अलावा गरज चमक और बूंदाबादी शुरू हो गई है। 14 राज्यों सहित उड़ीसा, बंगाल, झारखण्ड और बिहार में चक्रवात का असर दिखेगा।
IMD ने कहा कि हीटवेव के ताजा दौर के साथ अगले तीन दिनों के दौरान उत्तर पश्चिम और मध्य भारत के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान में दो से चार डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होगी। मौसम विभाग ने कहा कि 9 मई से 12 मई तक राजस्थान में और दक्षिण हरियाणा, दिल्ली, दक्षिण-पश्चिम उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के विदर्भ क्षेत्र में 8 मई से 11 मई को हीटवेव की स्थिति की भविष्यवाणी की गई है।
इसके अलावा राजधानी में एक बार फिर से गर्मी बढ़ेगी गर्म हवा के थपेड़े जारी रहेंगे। हालांकि 12 मई के बाद एक बार फिर से मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। इसके अलावा UP, बिहार झारखंड सहित उड़ीसा और पश्चिम बंगाल में तापमान में 5 से 6 फीसद की गिरावट दर्ज की गई है। मौसम सुहावना बना हुआ है। आसमान में बादल छाए हुए हैं। वहीँ बूंदाबांदी हो रही है। कुछ जगह पर आसमान साफ है।
उत्तर प्रदेश बिहार झारखंड के कई इलाकों में न्यूनतम तापमान जहां 25 डिग्री व अधिकतम तापमान 32 से 33 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया जा रहा है। जबकि मध्यप्रदेश में एक बार फिर से नौतपा शुरू होने से पहले ही गर्मी का प्रकोप बढ़ गया है। गर्म हवाएं चलेगी कई क्षेत्रों में तापमान 40 से 48 डिग्री पहुंच गया है। वहीं नौतपा में एक बार फिर से मौसम में गर्मी देखने को मिल सकती है।
भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शनिवार को उत्तर पश्चिम और मध्य भारत के कुछ हिस्सों में रविवार से शुरू होने वाले तीन दिनों के लिए नए सिरे से हीटवेव की स्थिति की भविष्यवाणी की। क्षेत्र के कई हिस्सों में अधिकतम तापमान 42-44 डिग्री सेल्सियस से अधिक रहने की संभावना है। शनिवार को पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर में अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।
इधर केरल, कर्नाटक, कराईकल, तमिलनाडु सहित महारष्ट्र और गोवा में बारिश और गरज चमक का अलर्ट जारी किया गया है। वहीँ पूर्वी राज्यों में भी बारिश का दौर जारी रहेगा। पूर्वी राज्य जैसे अरुणाचल प्रदेश, असम, मणिपुर, मिजोरम, मणिपुर, Meghalaya में 11 मई तक बारिश एके साथ बिजली गिरने की संभावना जताई गई है। इधर पर्वतीय राज्यों में भी मौसम सुहावना बना रहेगा, हिमाचल-उत्तराखंड-Leh-laddakh में भी बारिश जारी रहेगी।
भारत मौसम विज्ञान विभाग ने शनिवार को अपना पूर्वानुमान जारी करते हुए कहा कि अगले तीन दिनों के दौरान इस क्षेत्र में अधिकतम तापमान में 2-4 डिग्री सेल्सियस (लगभग 40-42 डिग्री सेल्सियस से अधिक) की वृद्धि होने की संभावना है। हालांकि, देश के बाकी हिस्सों में इस अवधि के दौरान अधिकतम तापमान में कोई खास बदलाव देखने को नहीं मिल सकता है।
IMD के पूर्वानुमान के अनुसार, विदर्भ क्षेत्र में 11 मई तक, पश्चिम राजस्थान में 8-11 मई तक, दक्षिण हरियाणा और पूर्वी राजस्थान में 9-11 मई तक, पश्चिम मध्य प्रदेश में 8-9 मई तक लू चलने की संभावना है। और 10-11 मई को दक्षिण पंजाब और जम्मू संभाग में हीट वेव का अलर्ट है।
राजस्थान के कुछ हिस्सों में आज से लू की संभावना
कुछ देर की राहत के बाद रविवार से राजस्थान के कुछ हिस्सों में लू चलने के लिए तैयार है। मौसम कार्यालय ने कहा कि 8 मई को जोधपुर, बीकानेर, जयपुर और भरतपुर संभाग के जिलों में लू चलने की संभावना है और इन क्षेत्रों में अधिकतम तापमान 44 से 45 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है। उन्होंने कहा कि अगले दो से तीन दिनों के दौरान बीकानेर और जोधपुर संभाग के जिलों में भी अपेक्षाकृत तेज धूल भरी हवाएं और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है।
गर्मी की चपेट में पश्चिम ओडिशा
मौसम विभाग के अनुसार, इस क्षेत्र के दस मौसम केंद्रों, शुक्रवार की तुलना में चार अधिक, 40 डिग्री सेल्सियस या उससे अधिक दर्ज किया गया, जबकि ओडिशा के कुछ हिस्सों में कुछ स्थानों पर अधिकतम 1-3 डिग्री की वृद्धि हुई।भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने रविवार को सूचित किया कि डीप डिप्रेशन, जो वर्तमान में बंगाल की खाड़ी के ऊपर पुरी से 1100 किमी दक्षिण-दक्षिण पूर्व में स्थित है, आज एक चक्रवाती तूफान में बदल गया है। चक्रवाती तूफान को आसनी नाम दिया गया है।
MeT विभाग के अनुसार, डिप्रेशन ने भाप पकड़ ली है और उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर 13 किमी / घंटा की गति से बढ़ रहा है। जबकि इसका वर्तमान मार्ग इसे आंध्र-ओडिशा तट की ओर ले जा रहा है, लेकिन इसके लैंडफॉल बनने की संभावना नहीं है। आईएमडी को सूचित किया कि चक्रवात लैंडफॉल नहीं करेगा क्योंकि सिस्टम के ओडिशा-आंध्र तट के समानांतर चलने की अधिक संभावना है।
IMD के महानिदेशक (DG), मृत्युंजय महापात्र ने कहा था चक्रवात का असर 10 मई तक उत्तर-पश्चिम की ओर होगा और उसके बाद, यह समुद्र में उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर फिर से जाएगा। उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ने के बाद समुद्र में सिस्टम कमजोर हो जाएगा।
10 मई की शाम के बाद गंजम, गजपति, खोरधा, जगतसिंहपुर और पुरी जैसे तटीय जिलों में हल्की से मध्यम बारिश शुरू हो जाएगी। तटीय क्षेत्रों में, हवा की गति 40-50 किमी प्रति घंटे और हवा की गति 60 किमी प्रति घंटे तक होगी। अधिकतम हवा की गति 50-60 किमी प्रति घंटे होगी और हवा की स्थिति 11 मई तक जारी रहेगी और उसके बाद, यह कम होना शुरू हो जाएगी।