कटनी। छात्राओं को आत्मनिर्भर बनने बनाने के गुण सिखाया फाइन आर्ट के माध्यम से।

Scn news india

नवनीत गुप्ता जिला ब्यूरो कटनी 

कटनी शहर से दुरस्थ क्षेत्र पिपरौंध के टेवाईट कॉलेज में तीन दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया रहा जिसका आज शनिवार को समापन हुआ, आखरी दिन कॉलेज में अध्ययन-रत
छात्राये पिछले तीन दिन में सीखी उस आधार पर आज अपने कला का प्रदर्शन अपनी कला कृतियों के माध्यम से कार्यशाला के समापन के अवसर पर प्रदर्शित किया।

 

आज के शिक्षा का आधार आत्मनिर्भर बनने की ओर अग्रसर है और “देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्लोगन भी है आत्मनिर्भर बनेगा भारत” इसी स्लोगन को ध्यान में रखकर टेवाईट कॉलेज में शिक्षण कार्य हेतु अध्ययनरत छात्राओ को फाइन आर्ट के माध्यम से शिल्पकला, बाम्बो, केनवास, स्वदेशी कला के माध्यम से पेंटिंग और डिजाईनर वाल पेंटिंग शिल्प पेंटिंग, मटकी,कलश, और पेपर कलर, क्लेय से मूर्तियाँ आदि बनाने की कलाओं के गुणों को सिखाया गया जिसे जबलपुर से आये अनुभवी ट्रेंड शिक्षकों ने छात्राओं को प्रशिक्षण प्रदान किया।

कृति परोहा

आपको बता दे कि छात्राएं जब आत्मनिर्भर बनेंगी तो उनका आगामी भविष्य भी उज्ज्वल होगा और अपने परिवार के साथ अपने बच्चों और समाज मे अन्य दुसरो को इस कला के माध्यम से रोजगार हेतु प्रेरणादायक बन सकेगा।

तृप्ति जैन छात्रा

कटनी पूर्व विधायक,संचालक टेवाईट कालेज, सुकीर्ति जैन

टेवाईट कालेज प्रिंसिपल, डॉक्टर पूनम मिश्रा

आर्ट ट्रेनर, वीरेंद्र कुमार