महिला के प्रसव के दौरान बच्चे की हुई मौत महिला के परिजनों ने किया कटनी जिला अस्पताल में हंगामा

Scn news india

संवाददाता सुनील यादव 

कटनी! कटनी जिला अस्पताल में आज सुबह प्रसव के दौरान बच्चे की मौत हो गई बच्चे की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल परिसर में जिला अस्पताल प्रशासन पर आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया महिला के परिजनों का आरोप है की तीस तारिक को प्रसव के लिए पूजा गोतम दुर्गा चौक कटनी निवासी पति आदित्य गोतम को जिला अस्पताल में प्रसव के लिए भर्ती किया गया था जब महिला का प्रसव कराया जा रहा था उस दौरान डाक्टर मौजूद नहीं थे और प्रसव जिला अस्पताल में मौजूद नर्शो के द्वारा किया गया जिस वजह से बच्चे की मौत हो गई।

वही सिविल सर्जन यशवंत वर्मा का कहना है की महिला 28 तारिक को जिला अस्पताल में भर्ती हुई बच्चे की मौत के बाद महिला के परिजनों ने हंगामा खड़ा कर दिया आपको बतादे की यह जिला अस्पताल का पहला मामला नहीं है इसके पूर्व भी ऐसी लापरवाही सामने आ चुकी है।वही महिला के बच्चे की मौत के बाद परिजनों ने इलाज के लिए महिला पूजा गोतम को प्राईवेट अस्पताल ले जाना मुनासिफ समझा इससे यह समझ आता है की जिला अस्पताल में इलाज किस तरह किया जाता है।जिला अस्पताल में मौजूद डाक्टरों की प्राईवेट अस्पताल में इलाज कराने के लिए आमजन को प्रताड़ित कर प्राईवेट अस्पताल जाने के लिए विवश किया जाता है।

और उनसे मोटी रकम कमा सके मगर कभी कभी इस तरह की घटना सामने आ ही आती है। और जिला प्रशासन इसे छुपाने के लिए कोई न कोई हथकंडे अपना ही लेता है। ऐसे सिस्टम पर मध्य प्रदेश सरकार को अंकुश लगाने की जरूरत है जिससे किसी की भी जान के साथ कोई और खिलवाड़ न कर सके। इस दौरान आक्रोशित परिजनों ने हंगामा करना शुरू कर दिया और डॉक्टर सुनीता वर्मा पर आरोप लगाते हुए कार्रवाई करने की मांग कर दी अब देखना है कि परिजन के आरोप का जिला प्रशासन पर क्या असर होता है।