अन्तर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस के अवसर पर विधिक जागरूकता शिविर आयोजित

Scn news india

योगेश चौरसिया जिला ब्यूरो मंडला 

मंडला -अन्तर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस के अवसर पर जनपद पंचायत नैनपुर के अन्तर्गत ग्राम पंचायत रैवाड़ा में विधिक जागरूकता शिविर आयोजित किया गया। शिविर में जिला विधिक सहायता अधिकारी विजय खोब्रागड़े ने उपस्थित मनरेगा योजना एवं अन्य निर्माण क्षेत्र में कार्य करने वाले असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के कल्याण के लिए बनाई गई योजनाश्रमिक कानूनमनरेगा कानून एवं निःशुल्क विधिक सहायता योजना की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस श्रमिकों के प्रति सम्मान प्रदर्शित करने के लिए मनाया जाता है। इसकी शुरूआत 1 मई 1889 को पेरिस से तब हुई थी जब श्रमिक के काम का समय निर्धारित किया गया था। इसी के बाद विश्व के सभी देशों ने श्रमिकों के हित में अनेकों कानून बनाये एवं लागू किये जिनमें काम के घंटेसाप्ताहिक अवकाशन्यूनतम मजदूरीसमान कार्य के लिए समान वेतनशिक्षा चिकित्सा क्षतिपूर्ति आदि शामिल है। भारत सरकार ने मनरेगा कानून लागू कर रोजगार को व्यक्ति का कानूनी अधिकार बना दिया है जो व्यक्ति के सम्मान के साथ जीवन जीने के लिए महत्वपूर्ण साधन है। शिविर में सहायक यंत्री मनरेगा बसंत मरकामउपयंत्री टी.एस. वर्मा एवं ग्राम पंचायत के सरपंच जगत सिंह धुर्वेरोजगार सहायक जयंती झारिया एवं ग्रामीण उपस्थित उपस्थित थे।

Live Web           TV