विषय शिक्षकों को प्रश्न बैंक तैयार करने के निर्देश

Scn news india

 

मनोहर

भोपाल-नवीन शिक्षा नीति के अनुकम में विद्यार्थियों के दक्षता स्तर के आकलन की प्रक्रियाओं में सुधार किया जाना है। इसके लिए प्रदेश स्तर पर शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार की दृष्टि से आइटम बैंक बनाए जाने है। ताकि प्रदेश के समस्त विद्यार्थी अपनी पढ़ाई की दिशा निर्धारित कर सके और साथ ही विद्यार्थियों के शैक्षणिक स्तर में वृद्धि की जा सके। कक्षा 9 से 12 तक सभी विषयों के प्रश्न बैंक तैयार किये जाने है। जिसमें सम्बंधित विषय एवं पाठ्यक्रम के आधार पर विद्यार्थियों की समझ का आंकलन किया जा सके।

विषय शिक्षकों को प्रश्न बैंक तैयार करने के लिए आपर संचालक लोक शिक्षण मध्यप्रदेश द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी को पत्र जारी कर निर्देश दिए है कि प्रश्न बैंक तैयार करने के लिए शिक्षकों को उनके नाम के समझ आवंटित विषय एवं अध्याय के आइटम बैंक बनाने का दायित्व सौपा जाएं। समस्या होने पर सम्बंधित स्टेट असेसमेंट सेल के विषय विशेषज्ञ से सम्पर्क कर सकेंगे जो इस कार्य के लिए विषय समन्वयक के रूप में नामांकित है। शासन द्वारा जारी निर्देश में जिला शिक्षा अधिकारी को कहा गया है कि अपने जिले के चयनित शिक्षकों से निर्धारित पाठ्यक्रम का प्रश्न बैंक 05 मई,2022 तक तैयार कराकर समय सीमा में कार्यवाही पूर्ण कराना सुनिश्चित करें ।

प्रश्न बैंक निर्माण के लिए प्रत्येक विषय शिक्षक प्रश्नों के निर्माण के लिए केवल मध्य प्रदेश शासन की NCERT आधारित पुस्तक ही प्रयोग करेगें। प्रश्न बैंक का निर्माण हिन्दी में में किया जाए। अंग्रेजी के लिए CALIBRI फॉण्ट का प्रयोग किया जाए। प्रश्न बैंक की तैयार फाइल DOC. (WORD FILE) में होना चाहिए। प्रश्न बैंक की फाइल mpsacteam@gmail.com पर भेजे।