मुख्यमंत्री श्री चौहान “सिविल सर्विस डे” पर लोक सेवकों को दिया ऊर्जा से भरे रहने का मंत्र

Scn news india
मनोहर
भोपाल-मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने “सिविल सर्विस डे” के अवसर पर आर.सी.व्ही.पी. नरोन्हा प्रशासन अकादमी, भोपाल में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि “सिविल सर्विस डे”  पर सबसे पहले मैं आप सभी को शुभकानाएं देता हूं ! जब भी चुनौती सामने आई हम डरे नहीं, घबराए नहीं, घर बैठे नहीं, बल्कि जनता के कल्याण के लिए अपने आपको भी दांव पर लगाकर हमने काम किया।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश ने गठन के बाद से मध्यप्रदेश ने विकास की कई मंजिलें गठित की हैं। सरकार योजनाएं बनाती है, लेकिन जमीन पर क्रियान्वित करके मप्र को आज हमने विकसित राज्य की पांत में ले जाकर खड़ा कर दिया है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इसमें जिन-जिनका योगदान है जो यहां नहीं हैं जो इस संसार में भी नहीं है मैं उन सभी को प्रणाम करता हूं। मप्र की इस टीम पर मुझे गर्व है। मप्र ने पब्लिक सर्विस डिलेवरी एक्ट बनाया, जिसको संयुक्त राष्ट्र ने सम्मानित किया।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कठिन परिस्थितयों में हमारे लोक सेवकों ने जो काम किया वह अद्भुत है। कई हमारे बीच में नहीं रहे। कर्तव्य की वेदी पर उन्होंने अपना बलिदान कर दिया।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सेवा का रास्ता अगर हमने चुना है तो केवल कैरियर के लिए नहीं चुना, जो दायित्व हमें दिया गया है उसका बेहतर निर्वहन करते हुए जनता की जिंदगी बदलने के लिए चुना है।
Live Web           TV