जयकारों के साथ हुआ मासिक महाआरती का आयोजन आज समाज बुराइयां नशा, व्यभिचार, छुआछूत, जातिवाद, धर्म संप्रदाय जैसे अनेक बीमारियों से ग्रसित है- भुज्जीलाल सेन

Scn news india

स्वामी सींग दमोह
दमोह। परम पूज्य सदगुरुदेव श्री शक्तिपुत्र जी महाराज के निर्देशन में प्रतिमाह की भांति इस माह भी कृषि उपज मंडी सागर नाका परिषद में मासिक महाआरती का भव्य आयोजन भगवती मानव कल्याण संगठन एवं पंचज्योति शक्ति तीर्थ सिद्धाश्रम धाम के संयुक्त तत्वाधान में संपन्न की गई। सर्वप्रथम मां एवं गुरुवर के गगनभेदी जयकारे लगाए गए, तत्पश्चात माता आदिशक्ति जगत जननी जगदम्बा एवं योगीराज श्री शक्तिपुत्र जी महाराज की महाआरती संपन्न की गई। जिसमें हजारों की संख्या में मां के भक्तों ने भाग लेकर मां एवं गुरुवर का आशीर्वाद प्राप्त किया।

समापन के अवसर पर गुरुवर श्री की विचारधारा से अवगत कराते हुए संगठन के केंद्रीय उपप्रचार मंत्री श्री भुज्जीलाल सेन जी ने कहा की हम एक ऋषि की विचारधारा का पालन कर माता आदिशक्ति जगत जननी जगदम्बा की साधना आराधना नशा मुक्त, मांसाहार मुक्त एवं चरित्रवान जीवन जीते हुए करते हैं, निश्चित है वह फलीभूत होकर समस्त देवी देवताओं की कृपा हम को प्राप्त होने लगती है।

समस्त मां भक्तों से निवेदन है कि सत्य मार्ग पर आगे बढ़े धर्म राष्ट्र एवं मानवता की रक्षा के लिए हमें दृढ़ संकल्पित होना होगा तभी हम मानव कहलाने के अधिकारी हैं। आज समाज में विभिन्न प्रकार की बुराइयां नशा, व्यभिचार, छुआछूत, जातिवाद, धर्म संप्रदाय जैसी अनेक बीमारियों से ग्रसित है। हमें समाज को जागृत करना होगा कि हमारा सबका प्रथम धर्म मानवीय मूल्यों की स्थापना है जिससे समाज के पतन को बचाया जा सकता है। भगवती मानव कल्याण की महिला शाखा की जिला अध्यक्ष श्रीमती आरती सिंह जी ने कहा की मां की साधना सर्वोपरि है।

लेकिन परोपकार के बिना साधना अधूरी है अतः जो हम शक्ति का अर्जन करते हैं उसका सदुपयोग होना आवश्यक है तभी हम सबकी साधना सफल मानी जाती है। भगवती मानव कल्याण संगठन के जिला प्रभारी श्री सुजान सिंह, जिला अध्यक्ष श्री मान सिंह ठाकुर, श्री महेंद्र पालीवाल जी एवं प्रांतीय प्रवक्ता श्री बाबूलाल विश्वकर्मा जी ने उपस्थित मां भक्तों को संबोधित किया एवं नशा मुक्त रहने के लिए दृढ़ संकल्प करवाया। जिसमें सैकड़ों लोगों ने नशा मुक्त रहने का संकल्प लिया। अंत में सभी मां भक्तों ने शक्ति जल एवं प्रसाद प्राप्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.