गैर जिम्मेदार दामोदर रोपवे देवघर की घटना से नहीं सबक सीख रहा

Scn news india

दिवाकर पांडे तहसील ब्यूरो 

रोपवे प्रबंधन के पास नही है आपदा से निपटने के लिए कोई संसाधन,

होने वाली किसी भी अनहोनी की जबाबदेही लेगा स्थानीय और जिला प्रशासन …….?

मैहर मां शारदा मंदिर पहाड़ी में संचालित दामोदर रोपवे इनदिनों अपनी कार्यप्रणाली को लेकर सुर्खियों में है कभी इसके बड़े हुए समय को लेकर सवाल खड़ा किया जा रहा है तो कभी इसके प्रबंधन और संचालन पर प्रश्न चिन्ह खड़ा किया जा रहा है आये दिन रोपवे के संचालन के खराब होते हालात स्थानीय लोगो सहित बुद्धजीवियों के माथे में चिंता की लकीरें बढ़ा रही है और हो भी क्यो न क्योकि मामला दर्शनार्थियों भक्तो की सुरक्षा से जुड़ा है। क्योंकि हाल ही में झारखंड के देवघर में हुए हादसे ने सबकी चिंता बढ़ा दी है मैहर में संचालित दामोदर रोपवे इंफ्रा कंपनी कोलकाता से जब इस बात की जानकारी चाही गई कि संभावित हादसे से निपटने के लिए आपके पास क्या व्यवस्था है इस पर मैहर में मौजूद तकनीकी प्रमुख चंद्रभान, व असरफ खान ने ये कहते हुए कुछ कहने से इंकार कर दिया की हमे कुछ बोलने का अधिकार नहीं है दामोदर रोपवे इंफ्रा कंपनी के शांतनु गुप्ता को फोन लगाया गया तो वो फोन रिसीव करने में कोई रुचि नहीं लिया अब सवाल ये उठता है कि मैहर दामोदर रोपवे इंफ्रा कंपनी का कौन प्रमुख है क्योंकि यहां संचालित रोपवे के पास आपदा या अनहोनी होने पर सुरक्षा व्यवस्था के नाम पर कुछ भी नही । इसकी कार्यप्रणाली बताती है कि यह कंपनी यहां नोट छापने आई है और वही कार्य कर रही है और जिम्मेवार प्रशासनिक अमला इसे अपने गोद मे बिठाए गड्डियों की खुश्बू लेने में मशगूल नजर आता है। विगत कुछ ही महीनों की बात की जाय तो रोपवे की खराबी की वजह से दर्शनार्थी हवा में लटकते नजर आए । सवाल प्रशासन से की क्या तंत्र किसी बड़ी अनहोनी के बाद जागेगा और क्या हुई घटना के लिए स्वयं को जिम्मेवार मानते हुए अपने पद से इस्तीफा देंगे। अगर नही तो समय रहते इस रोपवे पर लगाम लगाए देवघर की हुई घटना से सीख ले और दर्शनार्थियों की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर चौकन्ने हो और शर्त के अनुसार रोपवे को समिति के आधीन ले दामोदर रोपवे की छुट्टी करे।