रिहायशी क्षेत्र में खुली शराब दुकान के खिलाफ स्थानीय लोगों का धरना प्रदर्शन, कांग्रेस – भाजपा नेताओं ने भी प्रदर्शन.

Scn news india

जबलपुर से संभागीय ब्यूरो अमित चौरसिया 

जबलपुर – प्रदेश की नई शराब नीति के तहत शराब की नई दुकानें खोले जाने के विरोध में पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा की फायर ब्रांड नेता उमा भारती के द्वारा शराब दुकान के खिलाफ ऐसा पत्थर उछाला गया कि इसका असर जबलपुर तक देखा जा रहा है…. जबलपुर में रविवार को कटंगा क्षेत्र में उस वक्त महिलाएं शराब दुकान के सामने धरने पर आकर बैठ गई जब शराब दुकान का उद्घाटन किया जा रहा था…. आसपास के रिहायशी क्षेत्र से आयीं संभ्रांत परिवार की महिलाओं ने इस शराब दुकान को बंद करने की मांग तेज कर दी….

महिलाओं की बढ़ती हुई भीड़ को देखकर न केवल कांग्रेस बल्कि भारतीय जनता पार्टी संगठन के वर्तमान पदाधिकारी भी इस विरोध प्रदर्शन में शामिल हो गए और शराब दुकान को इस क्षेत्र से हटाने के लिए नारेबाजी करने लगे…. बीजेपी के नेताओं ने इस दौरान अपनी ही भाजपा सरकार के द्वारा तय की गई शराब नीति का भी जमकर विरोध किया… पूरे दिन धरना देने के बाद भी किसी भी अधिकारी ने धरना स्थल पर आकर विरोध दर्ज कराने वालों से बात भी नहीं की ऐसे में महिलाओं का गुस्सा सातवें आसमान पर है…. महिलाओं का साफ कहना है कि जब तक यह दुकान बंद नहीं होती तब तक उनका धरना चलता रहेगा ….इधर भाजपा– कांग्रेस सहित सभी राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों ने भी इस धरने को जारी रखने का निर्णय लिया है…. राजनीतिक दलों के नेताओं का समर्थन मिलने के बाद संभ्रांत परिवार की इन महिलाओं के विरोध प्रदर्शन को काफी मजबूती मिली है… फिलहाल यह धरना रात में भी जारी है.

जया चंसोरिया, स्थानीय निवासी.

केके सूरी भाजपा नेता,

विवेक अवस्थी कांग्रेस नेता.