राजस्थान की डाक्टर अर्चना शर्मा की मौत का विरोध, कटनी में कैंडिल जला दी डाक्टरो व नर्सिंग स्टूडेंट ने डाक्टर अर्चना को श्रद्धांजलि

Scn news india

कटनी से सुनील यादव लो रिपोर्ट

  • राजस्थान की डाक्टर अर्चना शर्मा की मौत का विरोध, 
  • मप्र के साथ समूचे भारत मे लामबंद हुए डाक्टर, 
  • कटनी में कैंडिल जला दी डाक्टरो व नर्सिंग स्टूडेंट ने डाक्टर अर्चना को श्रद्धांजलि

राजस्थान के दौसा क्षेत्र में महिला चिकित्सक डॉ अर्चना शर्मा द्वारा यहां के नेताओं और स्थानीय नागरिकों द्वारा उनके और उनके पति के विरोध में किए गए प्रदर्शन से व्यथित होकर आत्महत्या कर ली। डाक्टर की मौत के बाद से ही इस पूरे मामले की निष्पक्ष जांच और दोषियों पर कार्यवाही की मांग को लेकर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन द्वारा पूरे भारत में प्रदर्शन किया जा रहा है। कटनी इकाई द्वारा भी कचहरी चौराहे में एकत्रित होकर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन जिला इकाई के बैनर तले शहर के चिकित्सकों ने शांति मार्च निकाला और डाक्टर अर्चना शर्मा को  कैंडल जला  श्रंद्धाजलि दी।

डाक्टर अर्चना एक होनहार व गोल्ड मेडलिस्ट,एमडी स्त्री रोग विशेषज्ञ थी। उन्होंने अपने पिता के कहने पर गांधीनगर में एसोसिएट्स प्रोफेसर के पद से इस्तीफा देकर अपने पिता के कहने पर दौसा आई और अस्पताल प्रारंभ किया। बीते सप्ताह एक महिला की डिलिवरी के दौरान जिसके चौथे बच्चे की डिलिवरी होना थी महिला की गंभीर हालत देखते हुए उसे दो बार रैफर किया गया हालत में सुधार नही होने पर डाक्टर अर्चना ने किसी तरह ऑपरेशन कर नवजात को बचा लिया लेकिन महिला की हालत गंभीर होने पर उसने दम तोड़ दिया। जिसको लेकर उनसे खुन्नस रखने वाले एक वर्ग ने महिला की मौत पर सड़को पर प्रदर्शन किया। जिसके बाद उनके व उनके पति पर 302 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया। इस बात से व्यथित होकर डाक्टर अर्चना ने आत्महत्या कर ली। इस घटना से सुमचे देश मे डाक्टरो में रोष है और वे प्रदर्शन कर रहे है।

डाँक्टर दीपक सक्सेना

 डाँक्टर उमा निगम