गोराखार क्लस्टर में ग्राम संवाद – नल-जल योजना का कार्य करने वाले ठेकेदार के विरूद्ध कार्रवाई के निर्देश (पूरी खबर )

Scn news india

राजेश साबले ब्यूरो बैतूल 

  • गोराखार क्लस्टर में ग्राम संवाद कार्यक्रम आयोजित
  • दीवानचारसी में हुई क्लस्टर बैठक
  • ग्रामों में पेयजल आपूर्ति में नहीं हो कोई दिक्कत- कलेक्टर
  • दीवानचारसी में नल-जल योजना का कार्य करने वाले ठेकेदार के विरूद्ध कार्रवाई के निर्देश

बैतूल -ग्रामीण क्षेत्रों की समस्याओं से रू-ब-रू होकर उनके मौके पर ही निराकरण के उद्देश्य से जिले में प्रारंभ किए गए ग्राम संवाद अभियान के तहत गुरुवार को बैतूल विकासखंड के गोराखार क्लस्टर की खड़ला, सेहरा, पीपला, बोरीकास, हथनाझिरी, दीवानचारसी, कोलगांव, गोराखार, सूरगांव, भोगीतेढ़ा एवं जसोंदी पंचायतों में सेक्टर अधिकारी ग्रामीणों की समस्याएं सुनने पहुंचे। कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस एवं सीईओ जिला पंचायत श्री अभिलाष मिश्रा ने ग्राम पंचायत मुख्यालय दीवानचारसी में क्लस्टर बैठक लेकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनीं। ग्राम दीवानचारसी में पानी की टंकी निर्माण के लिए परीक्षण किए जाने के निर्देश दिए गए। साथ ही जल जीवन मिशन के अंतर्गत किए गए कार्य की गुणवत्ता ठीक नहीं होने की शिकायत मिलने पर संबंधित ठेकेदार के विरूद्ध कार्रवाई के निर्देश दिए गए। ग्राम संवाद कार्यक्रम में ग्रामीणों से प्राप्त 210 आवेदनों में से 81 आवेदनों का शिविर स्थल पर निराकरण किया गया, शेष के निराकरण के लिए समय सीमा प्रदान की गई।

जारी निर्देश पर तत्काल कारवाही के निर्देश :-

  • मेंढा जलाशय के पास किसी व्यक्ति द्वारा ब्लास्टिंग का कार्य किए जाने की शिकायत मिलने पर कलेक्टर ने जांच के निर्देश दिए। 
  • साथ ही ग्राम कोलगांव में ग्राम पंचायत की जमीन पर अतिक्रमण किए जाने की शिकायत पर कलेक्टर द्वारा अतिक्रमण हटाने के एसडीएम को निर्देश दिए गए। 
  • ग्राम गोराखार के नत्थू पिता बंशी द्वारा अपने भू-अभिलेख में दुरुस्ती करवाने की मांग पर कलेक्टर द्वारा समयावधि में कार्य करने हेतु तहसीलदार को निर्देशित किया गया।
  • ग्राम जसोंदी में सामाजिक सहायता के लंबित प्रकरणों के तत्काल निराकृत करने एवं प्रकरणों के निराकरण में विलंब के लिए दोषी कर्मचारियों के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई के कलेक्टर ने सीईओ जनपद को निर्देश दिए।
  • ग्राम गोराखार में ग्राम पंचायत के टैंकर का प्रभावशाली लोगों द्वारा उपयोग किए जाने की शिकायत की जांच के निर्देश दिए गए। 
  • इस ग्राम के वार्ड क्रमांक एक में बिजली के खंबे जीर्ण-शीर्ण होने की ग्रामीणों की शिकायत पर तत्काल खंबों का आवश्यक सुधार करवाने हेतु बिजली विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया गया।
  • सोहागपुर की शुगर मिल द्वारा किसानों से गन्ने का भाड़ा ज्यादा लिए जाने संबंधी शिकायत के निराकरण के लिए उप संचालक कृषि को निर्देश दिए गए।
  •  गोराखार से सरंडई के लिए मार्ग निर्माण संबंधी मांग पर प्रस्ताव तैयार करने के ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के अधिकारी को निर्देश दिए गए।
  • इसी तरह सेहरा से खड़ला मार्ग पर पुलिया निर्माण एवं नयेगांव से सेहरा मार्ग पर प्रधानमंत्री ग्रामीण सडक़ योजना के अंतर्गत सडक़ निर्माण के लिए परीक्षण करने हेतु संबंधित अधिकारी को कलेक्टर ने निर्देश दिए।
  • ग्राम हथनाझिरी में कृषकों द्वारा जनभागीदारी से ट्रांसफार्मर लगवाने की मांग पर शीघ्र कार्रवाई करने के लिए बिजली विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया गया। दीवानचारसी की इंजीनियरिंग उत्तीर्ण छात्रा प्रियंका द्वारा एजुकेशन लोन की वसूली में राहत की मांग पर कलेक्टर ने जिला अग्रणी बैंक अधिकारी को समुचित कार्रवाई के लिए निर्देश दिए।
  • सेहरा में पीने की पानी की समस्या एवं जल जीवन मिशन का कार्य पूर्ण नहीं होने की ग्रामीणों की समस्या का 20 अप्रैल तक निदान करने के पीएचई के अधिकारी को निर्देश दिए गए। वहीं सेहरा में ही उचित मूल्य की दुकान बंद होने की जानकारी मिलने पर तत्काल दुकान चालू करवाने के जिला आपूर्ति अधिकारी को निर्देश दिए गए।
  • सेहरा में संचालित आंगनबाड़ी केन्द्र को प्राथमिक शाला भवन में संचालित करने हेतु जिला शिक्षा अधिकारी तथा महिला एवं बाल विकास अधिकारी को निर्देशित किया गया।
  • शिविर में सामाजिक सहायता पेंशन के 12 आवेदनों में पात्र हितग्राहियों के प्रकरण भी तैयार किए गए।

सेक्टर अधिकारियों ने 11 ग्राम पंचायतों में पहुंचकर सुनीं ग्रामीणों की समस्याएं

ग्राम संवाद अभियान के दौरान पूर्वान्ह में इस क्लस्टर की ग्राम पंचायत खड़ला, सेहरा, पीपला, बोरीकास, हथनाझिरी, दीवानचारसी, कोलगांव, गोराखार, सूरगांव, भोगीतेढ़ा एवं जसोंदी के ग्रामों में सेक्टर अधिकारियों द्वारा भ्रमण कर ग्रामीणों से सीधा संवाद किया गया एवं उनकी शिकायत/समस्याओं पर चर्चा की गई। साथ ही आवेदन भी प्राप्त किए गए, जिनका दीवान चारसी में आयोजित क्लस्टर बैठक में समाधान किया गया। इस दौरान एसडीएम बैतूल सुश्री रीता डेहरिया भी मौजूद रहीं।