कोरोना संकट से निकालकर स्वर्णिम प्रदेश की राह पर लाए शिवराज संदीप जायसवाल

Scn news india

सुनील यादव कटनी 

मुड़वारा विधायक ने कहा- मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली सरकार ने चुनौतियों को अवसर में बदला

कटनी। दो साल पहले मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व वाली भाजपा की सरकार जब सत्ता में आई थी, तो हमने कहा था कि यह सरकार प्रदेश को बचाने के लिए बनी है। इस सरकार ने न सिर्फ प्रदेश को उबारा, बल्कि कोरोना जैसे संकट का सफलतापूर्वक मुकाबला भी किया। बीते दो सालों में इस संवेदनशील सरकार ने चुनौतियों को अवसरों में बदला और सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के ध्येय के साथ काम करते हुए प्रदेश को स्वर्णिम मध्यप्रदेश बनाने के रास्ते पर लगातार आगे बढ़ा रही है। इस सरकार के सफलतम दो वर्ष पूर्ण होने पर मैं मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान तथा प्रदेश की जनता को बधाई और शुभकामनाएं देता हूं। यह बात कटनी विधायक संदीप जायसवाल ने मीडिया को संबोधित करते हुए कही।

संगठन और सरकार ने मिलकर किया संकट का मुकाबला

संदीप जायसवाल  ने कहा कि सत्ता में आते ही मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व वाली सरकार को कोरोना संकट का सामना करना पड़ा। इस सरकार ने लगातार धैर्य के साथ काम करते हुए संकट का मुकाबला किया और पार्टी कार्यकर्ताओं ने राजनीतिक के साथ-साथ सामाजिक भूमिका का निर्वाह करते हुए पीड़ितों की सेवा शुरू कर दी। अपनी जान को जोखिम डालते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं ने पीड़ितों को दवाएं, भोजन उपलब्ध कराया। यही नहीं, बल्कि कोरोना टीकाकरण में भी कार्यकर्ताओं ने गांव-गांव तक महत्वपूर्ण काम किया। इस संकट के थम जाने के बाद भी पार्टी कार्यकर्ता प्रदेश को स्वर्णिम मध्यप्रदेश बनाने के लिए सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रहे हैं और सरकार की योजनाओं को जमीन पर उतारने का काम कर रहे हैं। संदीप जायसवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली इस सरकार ने बीते दो सालों में जिस तरह हर वर्ग के लिए काम किया है, उसके चलते अब अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों में भी इस सरकार के प्रति विश्वास जागा है।

तेजी से आगे बढ़ रहा मध्यप्रदेश

विधायक ने कहा कि कोरोना संकट के मुकाबले के साथ-साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के संकल्प के अनुरूप आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का रोडमेप तैयार किया। मुझे गर्व है कि आज आत्मनिर्भर भारत के कई मापदंडों में मध्यप्रदेश नं.-1 राज्य बन गया है। प्रदेश सरकार के प्रयासों से कोरोना संकट के बाद प्रदेश की अर्थव्यवस्था लगातार सुधार पर है और राज्य का जीएसडीपी लगातार बढ़ रहा है। महामारी के बावजूद मध्यप्रदेश 19.44 प्रतिशत की विकास दर हासिल करने में सफल रहा है, जिसके लिए मैं मुख्यमंत्री और उनकी टीम को बधाई देता हूं। प्रधानमंत्री जी के सपने को पूरा करते हुए प्रदेश का इंदौर शहर स्वच्छ भारत अभियान में लगातार शिखर पर बना हुआ है और प्रदेश के कई अन्य शहरों की स्थिति में सुधार हुआ है। आयुष्मान भारत योजना में जरूरतमंदों के 2.66 लाख कार्ड बनाकर मध्यप्रदेश देश में प्रथम रहा है। कोरोना संकट में हमारे संवेदनशील नेतृत्व ने किसानों से समर्थन मूल्य पर खरीदी की व्यवस्थाएं की और मध्यप्रदेश ने नया रिकॉर्ड बनाया। प्रदेश एग्री इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में नं.-1 पर है। यही नहीं, बल्कि केंद्र सरकार की नई शिक्षा नीति को लागू करने वाला भी मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है।

कमलनाथ सरकार ने छीना गरीबों का हक, शिवराज सरकार ने लौटाया

संदीप जायसवाल ने कहा कि 15 महीने की कमलनाथ सरकार ने दिग्विजयसिंह के इशारे पर यह कहकर 1.34 लाख प्रधानमंत्री आवास लौटा दिये कि हमारे पास मेचिंग ग्रांट नहीं है। मुझे गर्व है कि शिवराज सरकार ने कोरोना संकट में भी प्रधानमंत्री आवास का काम तेजी से किया और आने वाली 29 तारीख को प्रधानमंत्री श्री मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के 5 लाख लोगों को उनके नए घर में गृह प्रवेश कराएंगे।
संदीप जायसवाल ने कहा कि कमलनाथ सरकार ने लाडली लक्ष्मी, मुख्यमंत्री कन्यादान, तीर्थदर्शन योजना समेत गरीब कल्याण की तमाम योजनाएं बंद कर दी थीं। हमारी संवेदनशील सरकार ने इन योजनाओं को दोबारा शुरू किया और आज मध्यप्रदेश में लाडली लक्ष्मियों की संख्या 41 लाख हो गई है।

अटलजी के सपनों को साकार कर रही प्रदेश सरकार : रामरतन पायल

जिलाध्यक्ष रामरतन पायल ने कहा कि मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी के सपनों को पूरा करते हुए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में उल्लेखनीय कार्य किया है। मि. बंटाढार की सरकार के समय प्रदेश में सिर्फ 7 लाख हेक्टेयर में सिंचाई होती थी, लेकिन आज म.प्र. में सिंचित भूमि का रकबा 43 लाख हेक्टेयर हो गया है। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड के नाम पर लोग सिर्फ राजनीति करते रहे। लेकिन हमारी सरकार ने केन-बेतवा लिंक परियोजना में आ रही रुकावटों को दूर करके काम शुरू किया और अटलजी के सपने को साकार करने के दिशा में कदम बढाए। वो दिन दूर नहीं है, जब सूखा बुंदेलखंड फिर से हरा-भरा होगा।

हर वर्ग के लिए, हर क्षेत्र में काम कर रही हमारी सरकार

हमारी संवेदनशील सरकार लोगों की परेशानियों को समझती है और हर वर्ग की समस्याओं को दूर करने के लिए जीवन के हर क्षेत्र में काम कर रही है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने कोरोना संकट के समय के  80 लाख घरेलू उपभोक्ताओं के बिजली बिल माफ कर दिए हैं। शिवराज सरकार ने प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों को 11 प्रतिशत महंगाई भत्ता 01 अप्रैल से दिये जाने का ऐतिहासिक निर्णय लिया है। बच्चों के विकास और कल्याण के लिए हमारी सरकार ने पहली बार अलग से चाइल्ड बजट पेश किया है। हमारी सरकार ने जहां ओबीसी के हितों की रक्षा के लिए गंभीर प्रयास किए, तो सामान्य वर्ग के लिए अलग से सामान्य वर्ग आयोग का गठन भी किया है। अनुसूचित जनजाति बहुल क्षेत्रों में विशेष योजनाओं को लागू करके इस वर्ग के छात्रों को करोड़ों रुपये की स्कॉलरशिप भी दी है।

शिवराज सरकार ने बनाया प्रदेश को शांति का टापू

शिवराज सरकार गुंडों, अपराधियों, माफियाओं के साथ पूरी सख्ती से पेश आ रही है। जब भाजपा सरकार सत्ता में आई थी, तो चंबल से लेकर बुंदेलखंड तक डाकुओं का आतंक था। हमारी सरकार ने इस आतंक को समाप्त कर दिया। सरकार ने सिमी के खिलाफ लगातार कार्रवाई करते हुए उसे पूरी तरह नेस्तनाबूद कर दिया है। मध्यप्रदेश शांति का टापू बना रहे, इसके लिए गुंडों, अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई लगातार जारी है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने अपने कार्यकाल में 21 हजार हेक्टेयर सरकारी जमीन गुंडों, माफियाओं से मुक्त कराई है। पन्ना क्षेत्र में तो उन लोगों के अवैध कब्जे भी हटाए गए हैं, जो पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह के करीबी थे।