कई राज्यो में गांजा सप्लाई करने वाला मुख्यारोपी गिरफ्तार,46बोरियो में मिला था 1170किलो गांजा

Scn news india

सुनील यादव कटनी 

▪️मध्यप्रदेश समेत कई राज्यो को गांजा सप्लाई करने वाला उड़ीसा का मुख्यारोपी गिरफ्तार।
▪️17मार्च को कटनी पुलिस ने पकड़ा था ढाई करोड़ का गांजा।
▪️ट्रक नंबर से गाड़ी मालिक, चालक समेत मुख्य गांजा तस्कर सीताकांत बाबर्ते हुआ गिरफ्तार।
▪️46बोरियो में मिला था 1170किलो गांजा।
▪️कटनी पुलिस ने महाराष्ट्र से गाड़ी मालिक और चालक पवन कुकडे, करन चोपड़े समेत उड़ीसा से मुख्यारोपी सीताकांत बाबर्ते को किया गिरफ्तार।
▪️मादक पदार्थ अधिनियम समेत एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला किया था दर्ज।
▪️पुलिस ने आरोपियों को न्यायालय में पेशकर भेजा जेल।

मध्यप्रदेश समेत कई राज्यो में गांजा सप्लाई करने का काम उड़ीसा करता रहा है इसका जीता जागता सबूत 17मार्च की देर रात एक ट्रक ने देते हुए लगभग 12क्विंटल गांजा उगल डाला जिसकी अनुमानित कीमत ढाई करोड़ से अधिक की बताई गई। मामले की जांच कर रही कुठला पुलिस ने महाराष्ट्र समेत उड़ीसा से 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश करते हुए जेल भेजा है।

गांजा सप्लाई का सेंट्रल पॉइंट कहे जाने वाला राज्य उड़ीसा है जिसका सबूत समय-समय में मिलता रहा है। कुछ ऐसा ही देखने मिला कटनी जिले के कुठला थाना क्षेत्र में जहां एक ट्रक 1170किलो गांजा लिए उड़ीसा से यूपी के प्रयागराज के लिए निकला था लेकिन कटनी पुलिस ने उस 2.59करोड़ से लोड गांजे को इंद्रानगर के पास पकड़ लिया। हालांकि रात अधिक होने के चलते आरोपी ट्रक छोड़ भागने में सफल रहे। जिसके बाद पुलिस के लिए आरोपियों को पकड़ना एक चुनौती बन चुकी थी। चूंकि उड़ीसा के गांजा तस्कर तक पहुंचने की राह इतनी भी आसन नही थी लेकिन कटनी एसपी सुनील जैन ने पूरे मामले के खुलासे के लिए 2 टीम गठित की जिसमे से एक टीम ट्रक नंबर के आधार पर गाड़ी मालिक और चालक को पकड़ने महाराष्ट्र पहुंची जहां के अकोला थाना क्षेत्र से आरोपी पवन कुकडे और करन चोपड़े को गिरफ्तार कर पूछताछ की जिस पर आरोपियों ने उड़ीसा के आरोपी और लोकेशन कॉन्फ्रम करते ही दूसरी टीम जो उड़ीसा में पहले से ही मौजूद रही उसने गांजा तस्करी का मुख्यारोपी सीताकांत बाबर्ते मनुमुंडा जिले के पदमपुर थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर वापस कटनी ले आए।

वी/ओ.02 – पूरे मामले पर एसएसपी सुनील जैन ने बताया की उड़ीसा से 1170 किलो गांजा लेकर यूपी के प्रयागराज ट्रक निकला था जिनका काम कई जिलों में सप्लाई करते हुए प्रगायराज में अंतिम डिलेवरी करना था लेकिन इसके बीच ही कुठला पुलिस ने 1170 गांजा जो सीमेंट की बोरियो के बीच रखा था उसे पकड़ लिया। जिसके आरोपी के लिए एक टीम गाड़ी मालिक और ड्राइवर को महाराष्ट्र से गिरफ्तार किया जिसकी सूचना के बाद उड़ीसा की टीम मुख्यारोपी सीताकांत बाबर्ते को गिरफ्तार कर कटनी ले आए थे। आरोपियों पर विभिन्न धाराओं के तहत मामला किया गया था ये लोगो कई राज्यो में गांजा सप्लाई करने का काम किया करते थे जब्त हुए गांजे की अनुमति कीमत ढाई करोड़ है हालांकि इसकी अंतर्राष्ट्रीय बाजार में 12से 15करोड़ होती है आगे की जांच की जाएगी।