भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी है शिवराज सरकार: भूपेन्द्र गुप्ता

Scn news india

मनोहर

सरकार छः साल में यह भी नहीं बता सकी कि पैसा कहां खर्च किया
सीएजी ने बतायी साढ़े पंद्ह हजार करोड़ की गड़बड़ी
भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी है शिवराज सरकार: भूपेन्द्र गुप्ता

भोपाल- उपयोगिता प्रमाण पत्र न दे पाने के कारण केंद्र सरकार ने योजनाओं की राशि रोक दी है। प्रदेश कांग्रेस के मीडिया उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने कहा कि मध्य प्रदेश सरकार ने केंद्रीय योजनाओं के लगभग 15541 करोड़ के उपयोगिता प्रमाण पत्र केंद्र सरकार को नहीं दिए हैं। सीएजी ने अपनी रिपोर्ट में इस बात को उजागर किया है और बताया है कि लगभग 14000 करोड़ की राशि 2014-15 वित्तीय वर्ष की है जिस की उपयोगिता आज तक मध्य प्रदेश सरकार नहीं बता सकी है ।

गुप्ता ने कहा कि ये परिस्थितियां सरकारी योजनाओं की राशि के गबन अनियमित एप्रोप्रिएशन और अन्य विभागों में फंड के ट्रांसफर कर देने के कारण पैदा हुई हैं। सरकार 6 साल में वरिष्ठ अधिकारियों की ना तो जिम्मेदारी सुनिश्चित कर पाई है ना ही उनसे पूछ पा रही है कि आखिर इतनी बड़ी राशि कहां पर और कैसे खर्च की गई ।
लगता है कि मध्य प्रदेश में बड़े स्तर पर बिना बिल बाउचर के भी खर्चे किए जा रहे हैं और घोटाले किए जा रहे हैं ।इसीलिए बड़े-बड़े पदों की नीलामी लग रही है।
गुप्ता ने कहा की केंद्र सरकार ने विभिन्न योजनाओं का पैसा रोककर यह तो स्पष्ट कर ही दिया है कि मध्य प्रदेश सरकार गले गले तक अनियमितताओं में फंसी हुई है और वित्तीय अनुशासन का पालन नहीं करती हैं ।
गुप्ता ने मांग की कि सरकार उपयोगिता प्रमाण पत्र ना देने के कारण उजागर करे। प्रदेश की जनता को बताये कि इस अनियमितता या लूट के अपराधी कौन हैं?