10 दिन के भीतर किसानों का पूरा कर्जा माफ, 20 लाख सरकारी रोजगार,जमीन का मालिकाना, पुलिसकर्मियों को गृह जिला में पोस्टिंग

Scn news india

उत्तर प्रदेश में अगर कांग्रेस की सरकार बनती है तो 10 दिन के भीतर किसानों का पूरा कर्जा माफ किया जाएगा. ‘उन्नति विधान’ नाम से बुधवार को यूपी विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी किया गया.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी के बेहतर भविष्य के लिए कांग्रेस की कार्य योजना उन्नति विधान नाम से पेश की. उन्होंने कहा कि सबसे बड़े मुद्दे बेरोजगारी और महंगाई की समस्या पर हमने बहुत काम किया है. प्रियंका ने कहा कि राज्य में कांग्रेस सरकार बनने के बाद 2500 रुपए क्विंटल धान-गेहूं की खरीद होगी और गन्ना मूल्य 400 रुपए क्विंटल होगा. साथ ही बिजली का बिल आधाकिया जाएगा और  बकाया बिल माफ किया जाएगा.

उन्होंने अगले पांच साल में प्रदेश में  20 लाख सरकारी रोजगार देने की भी घोषणा की. प्रियंका गांधी ने कहा कि यूपी में कांग्रेस की सरकार बनी तो जिन परिवारों पर कोरोना से आर्थिक मार पड़ी है उन्हें 25 हजार रुपए दिए जाएंगे. 12 लाख खाली पदों को भरा जाएगा और 8 लाख नए पद बनाएंगे. 40 फीसदी महिलाओं को मिलेंगे. 10 लाख रुपए तक का इलाज मुफ्त होगा.

उन्होंने कहा कि किसान छुट्टा पशु से बहुत परेशान हैं. छत्तीसगढ़ मॉडल पर इसका समाधान किया जाएगा. जिन किसानों को नुकसान हुआ है उन्हें 3 हजार रुपए दिया जाएगा. ‘गोधन न्याय योजना’ शुरू की जाएगी और 2 रुपए किलो गोबर खरीद की जाएगी. छत्तीसगढ़ में यह योजना चल रही है.

कांग्रेस की सरकार बनी तो छोटे कारोबारियों को 1 फीसदी ब्याज पर कर्ज देने की घोषणा करते हुए कहा कि श्रमिकों और कर्मचारियों के लिए प्रस्ताव दिया गया है कि आउटसोर्सिंग की जाएगी. संविदा और सफाई कर्मियों को नियमित किया जाएगा.

कांग्रेस ने वादा किया है कि झुग्गी बस्तियों में रहने वाले लोगों को वहां की जमीन का मालिकाना अधिकार दिया जाएगा. लोगों को सस्ते आवास उपलब्ध कराए जाएंगे. चौकीदारों का वेतन प्रतिमाह 5 हजार रुपए किया जाएगा. शिक्षा मित्रों को नियमित किया जाएगा. साथ ही संस्कृत और ऊर्दू शिक्षकों के खाली पद भरे जाएंगे.

प्रियंका ने एससी और एसटी छात्रों को केजी से पीजी तक की शिक्षा मुफ्त देने की घोषणा की. महिला पुलिसकर्मियों को गृह जिला में पोस्टिंग दी जाएगी. साथ ही यूपी में पत्रकारों के खिलाफ दर्ज मुकदमों को खत्म करने का भी प्रियंका गाँधी ने घोषणा पत्र में जिक्र किया.