बीएमएस के क्षेत्रीय संगठन मंत्री ने निकाय कर्मचारियों की समस्याएं जानी, नियमितिकरण की मांग उठी

Scn news india

ब्यूरो रिपोर्ट 

सारनी। भारतीय मजदूर संघ बीएमएस से संबंद्ध नगर पालिका, नगर पंचायत मजदूर संघ के पदाधिकारियों गुरुवार को पाथाखेड़ा के भारतीय कोयला खदान मजदूर संघ के कार्यालय जुमड़े भवन में भारतीय मजदूर संघ के मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ राज्य के क्षेत्रीय संगठन मंत्री धर्मराज शुक्ला से मुलाकात की। स्थानीय पदाधिकारियों से मिलने वे प्रवास पर सारनी आए थे। यहां नगर पालिका पगर पंचायत मजदूर संघ के पदाधिकारियों ने जिले भर के नगरीय निकाय के कर्मचारियों की समस्याओं से उन्हें अवगत कराया। क्षेत्रीय संगठन मंत्री ने सभी मांगों पर जल्द विचार करने का आश्वासन दिया।

नगर पालिका, नगर पंचायत मजदूर संघ के जिला इकाई अध्यक्ष के.के. भावसार ने बताया कि भारतीय मजदूर संघ के मध्यप्रदेश , छत्तीसगढ़ राज्य के क्षेत्रीय संगठन मंत्री धर्मराज शुक्ला सारनी प्रवास पर आए थे। यहां उन्होंने पाथाखेड़ा के जुमड़े भवन में जिलाध्यक्ष श्री भावसार व जिला महामंत्री हरिओम कुश्वाह के नेतृत्व में संगठन के स्थानीय पदाधिकारियों से चर्चा कर कर्मचारियों से संवाद किया एवं उनकी समस्याओं के बारे में जानकारी हासिल की। श्री भावसार ने बताया कि नगरीय निकायों में कार्यरत कर्मचारियों की लंबित मांगों को लेकर संगठन मंत्री से चर्चा की गई। इसमें प्रमुख रूप से वर्ष 2007 के पूर्व से कार्यरत कर्मचारियों को नियमित करने व शेष कर्मचारियों को विनियमित करने की मांग की।

इसके अलावा अन्य भत्तों की सुविधा भी सभी कर्मचारियों को देने की मांग की। श्री कुशवाहा ने बताया कि दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों की मांगें लंबे समय से लंबित हैं। इन पर तत्काल विचार करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि जिले भर के नगरीय निकायों की यही स्थिति है। क्षेत्रीय संगठन मंत्री श्री शुक्ला ने मांगों की सूची अपने साथ रखी एवं जल्द ही नगरीय निकाय मंत्री के साथ बैठक कर उक्त मांगों का निराकरण करने का आश्वासन दिलाया। उन्होंने कहा कि नगरीय प्रशासन विभाग के मंत्री व अधिकारियों के साथ नगर पालिका, नगर पंचायत मजदूर संघ के पदाधिकारियों की बैठक कराई जाएगी। इससे समस्याएं जल्द निराकृत हो जाएंगी। इस मौके पर ललित सोना, निराकार सागर, रामकरण पथरोट, संदीप डोंगरे, विनोद परिहार, कामदेव सोनी, छंगाप्रसाद, सतपाल सोना, जीवन लाल बोहित, रंजीत डोंगरे समेत अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित थे।