निखिल संग अपूर्वा ने लिए सात फेरें , एकदूजे का हाथ थामकर जीवन भर साथ निभाने की खाई कसमें

Scn news india

धनराज साहू ब्यूरों

भैंसदेही-कोई भी शादी समारोह , जन्मदिन पार्टी या घरेलु आयोजन आदि पारिवारिक आयोजन की श्रेणी में आते है जिनका सार्वजनिक प्रसार अतिश्योक्ति सा लगता है। किन्तु यदि उसी  पारिवारिक आयोजन से कोई ऐसी नई परिपाटी या समाज को प्रेरणा देने वाला सन्देश छुपा हो तो समाचार जरूर बन जाता है। ऐसा ही एक विवाह बैतूल जिले की भैसदेही तहसील में देखने में आया। जहाँ कोरोना संक्रमण के बीच भी कैसे पूरी सुरक्षा से साथ आयोजन संपन्न किया जा सकता है इसकी बानगी  देखने को मिली ।

ये विवाह समारोह भैंसदेही के जाने-माने समाजसेवी श्री गुलाबराव सेलकरी एवं बालिका छात्रावास चिल्कापुर की छात्रावास अधिक्षिका श्रीमती गीता सेलकरी की लाड़ली सुपुत्री सौ.कां. बिट्टू (अपूर्वा) ने दभेरी सेलगांव जिला बैतूल निवासी आकोशराव गीद व श्रीमती बेबी गीद के लाड़ले सुपुत्र चि.निखिल के साथ सात फेरें लेकर परिणय सूत्र में बंधने का है। जो ना केवल सभी शासकीय अनुमतियों के साथ  संपन्न हुआ बल्कि कोरोना प्रोटोकॉल का भी दोनों पक्षों के द्वारा पूरा पालन किया गया।

भैंसदेही के प्रसिद्ध उमा लॉन में आयोजित वैवाहिक कार्यक्रम में कोरोना प्रोटोकॉल का विशेष पालन करते हुए क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों, रिश्तेदारों, स्वजातिय बंधुओं,अधिकारी/ कर्मचारियों, पत्रकारो गणमान्य नागरिकों एवं शुभचिंतकों ने वर वधू को सुखमय जीवन का आशीर्वाद प्रदान करते हुए दोनों के स्वस्थ, उज्जवल व यशस्वी जीवन की मंगल कामना की।