विश्व शांति के लिए तीन दिवसीय योग साधना कोरोनावायरस से मुक्ति हेतु ब्रह्माकुमारीज के सैकड़ों भाई बहनें करेंगे प्रार्थना

Scn news india
फाइल फोटो

हर्षिता वंत्रप

कोरोना और ओमीक्रॉन की गंभीरता को देखते हुए ईश्वर से प्रार्थनाओं का दौर जारी है | और इसी बीच अंतरराष्ट्रीय संस्था प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय भी विश्व शांति के लिए योग साधना कर रही है। संस्था की ओर से विश्व स्तर पर शांति के लिए योग साधना के प्रोग्राम बनाए जा रहे हैं । 16 से 18 जनवरी तक देश विदेश में ब्रह्माकुमारी के सभी सेवा केंद्रों पर विशाल स्तर पर साइलेंस मेडिटेशन का कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है | देश विदेश से कुल 10 लाख लोग इस साइलेंस मेडिटेशन में शामिल होंगे | 3 दिन तक चलने वाले इस योग कार्यक्रम का लक्ष्य है विश्व स्तर पर शांति के वाइब्रेशन फैलाना | पूरे विश्व को इसकी बहुत जरूरत है, इस बात को ध्यान में रखते हुए ब्रम्हाकुमारी इतने बड़े पैमाने पर योग का कार्यक्रम रखा है | इन 3 दिनों में ब्रह्ममुहूर्त से शुरू करके रात्रि तक की पूरी दिनचर्या तय की गई है | हर कोई अपने घर में बैठकर इस ऑनलाइन साइलेंस मेडिटेशन का अनुभव कर सकते हैं| योग के लिए अलग अलग टॉपिक चुने गए हैं इन टॉपिक के आधार पर मेडिटेशन कॉमेंट्री और परमात्मा की अनुभूति कराई जाएग।
जनवरी महीना के संस्थान के लिए बहुत ही अहम है क्योंकि 18 जनवरी को संस्था के साकार संस्थापक और विश्व शांति के प्रणेता पिताजी ब्रह्मा बाबा ने अपना पार्थिव शरीर त्याग किया था | उनकी स्मृति दिवस पर हर साल देश विदेश के हर सेवा केंद्रों पर योग साधना की जाती है अगर आप भी इस योग साधना में हिस्सा लेना चाहते हैं तो अपने नजदीकी सेवा केंद्रों से अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।

इसी तारतम्य में ब्रह्माकुमारीज के  सेवा केंद्र पर भी विश्व शांति के लिए एवं कोरोनावायरस से मुक्ति के लिए योग साधना के कार्यक्रम 3 दिन तक रखे जा रहे हैं| संस्थान की  सेवाकेंद्र प्रभारी बी के दीदी ने बताया कि सेवा केंद्र में 16 जनवरी प्रातः 6:00 बजे से योग साधना का दौर प्रारंभ हो जाएगा जोकि 3 दिन तक चलता रहेगा एवं 18 जनवरी को संस्थान के संस्थापक प्रजापिता ब्रह्मा बाबा की पुण्यतिथि पर संपन्न होगा | तीन दिवस तक चलने वाले योग साधना कार्यक्रमों में सैकड़ों ब्रह्माकुमार एवं ब्रम्हाकुमारी भाई बहनें योग साधना में बैठकर विश्व शांति के प्रकम्पन फैलाएंगे एवं कोरोनावायरस से मुक्ति के लिए ईश्वर से प्रार्थना करेंगे |

Live Web           TV