गंभीर बीमारी होने पर ही अस्पताल में आयें और सभी कोरोना का वैक्सीन लगवाएं -अधिष्ठाता डॉ दिनेश उदेनिया

Scn news india

विकास सेन दतिया 

गंभीर बीमारी होने पर ही अस्पताल में आयें और सभी कोरोना का वैक्सीन लगवाएं

शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ दिनेश उदेनिया ने की जनता से अपील

दतिया -शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ दिनेश उदेनिया ने दतिया वासियों से अपील की है कि गंभीर बीमारी होने पर ही अस्पताल में आयें। अनावश्यक रूप से भीड़ का हिस्सा नहीं बनें, क्योंकि कोविड-19 संक्रमित मरीजों की संख्या में प्रतिदिन इजाफा हो रहा है। कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती हुई संख्या को कोरोना की संभावित तीसरी लहर माना जा रहा है।
दतिया के जिला अस्पताल में आने वाले ऐसे मरीजों की संख्या अधिक है, जिसमेंं अस्पताल जाने की आवश्यकता नहीं है। ऐसे लोगों से डॉ दिनेश उदेनिया ने अपील की है ,कि वर्तमान स्थिति को देखते हुए अस्पताल में सिर्फ गंभीर बीमारी होने पर ही आएं। अनावश्यक रूप से भीड़ का हिस्सा ना बनें, क्योंकि अस्पताल में आने वाला कौन सा मरीज या व्यक्ति संक्रमित है, यह हमें और आपको नहीं पता। इसलिए इस कोविड-19 जैसी बीमारी से बचने के लिए कोविड नियमों का पालन करें और अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकलें। सुविधा की दृष्टि से आरटीपीसीआर की जांच कराकर आएं। जिन गर्भवती महिलाओं का डिलेवरी का समय नजदीक है। वह अपनी आरटीपीसीआर की जांच करा लें। इससे कोरोना संक्रमण का खतरा कम होगा। यह अपील शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ दिनेश उदेनिया ने गर्भवती महिलाओं और उनके परिजनों से की है। साथ ही साथ यह भी जानकारी दी कि कोरोना के वैक्सीन की वजह से ही तीसरी लहर में दतिया जिले में अभी तक कोई भी मरीज गंभीर नहीं हुआ है इसका मतलब यह है कि कोरोना वैक्सीन बहुत ही लाभकारी है , और जनता की जान बचा रही है , अतः डॉ दिनेश उदेनिया ने कहा कि जिन लोगों ने वैक्सीन नही ली है वो जल्द से जल्द लगवा लें। क्योंकि आप समाज और देश के लिए बेशकीमती हैं।।।