जिससे दूसरों का भला हो वही सुशासन है: मुख्यमंत्री श्री चौहान

Scn news india

हर्षिता वंत्रप 

भोपाल-मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गुड गवर्नेंस वह है, जिससे दूसरों का भला हो और किसी को तकलीफ न हो। उन्होंने कहा कि शरीर को कोई कष्ट न हो और लोग आनंद से जी सकें, यही सुशासन है। राम राज्य का मतलब भी गुड गवर्नेंस ही है। उन्होंने गोस्वामी तुलसीदास जी द्वारा रामायण में वर्णित एक चौपाई ‘दैहिक दैविक भौतिक तापा। राम राज नहिं काहु ब्यापा’ का उल्लेख भी किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जनता की बुनियादी जरूरतें रोटी-कपड़ा और मकान पूरी करने, मन और बुद्धि का सुख देने के साथ आनंद के लिए साधन जुटाने के कार्य में कोई कमी नहीं छोड़ी जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान कुशाभाऊ ठाकरे सभागार में सुशासन संगोष्ठी, “मध्यप्रदेश सुशासन एवं डेवलपमेंट रिपोर्ट” और “सुशासन डायजेस्ट” पत्रिका के विमोचन समारोह को संबोधित कर रहे थे।