यूरिया खाद को लेकर किसानों की बढ़ी मुश्किलें,कलेक्टर बोले खाद पर्याप्त

Scn news india

विकास सेन की रिपोर्ट 

दतिया जिले में हुई बारिश और ओलावृष्टि के बाद किसानों की मुश्किलें थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। किसानों की फसलों को अब यूरिया खाद की जरूरत है। किसान यूरिया खाद के लिये फिर मारामारी करने में लगा हुआ है।खाद गोदामों पर किसान अब यूरिया के लिये कतार लगा कर खड़ा हुआ है।

किसानो की मानें तो उसे अब फसलों के लिए यूरिया खाद की आवश्यकता है। ऐसे में यदि यूरिया नही डालेंगे तो हमारी फसल पीली पड़ जाएगी। जिस से उपज कम होगी। इस के साथ ही बारिश और ओलावृष्टि से मसूर, चना एवं मटर की फसलों को काफी नुकसान हुआ है। इन सब के बाद किसान के पास ले दे कर केवल गेहूँ की ही फसल बची है। जिसके सहारे वह अपनी साल निकाल सकता है। किसान को खाद गोदामों पर घँटों लाइन में लगना पड़ रहा है।जबकि प्राइवेट दुकानों पर पर्याप्त यूरिया की उपलब्धता है। पर वहाँ किसान को एक बोरी यूरिया खाद 2 सो 70 रुपए की जगह 500 रुपये में मिल रही है। इस बात को लेकर किसान बेहद हैरान और परेशान हैं।

कालका प्रसाद मिश्रा (किसान)

वही जिला कलेक्टर संजय कुमार जिले में पर्याप्त खाद की उपलब्धता बता रहे हैं। इस बात को लेकर एक बड़ा प्रश्न यह पैदा होता है कि जब यूरिया की उपलब्धता पर्याप्त है तो किसान को सही मौके पर और सही कीमत में खाद क्यों नहीं मिल रहा है।

संजय कुमार (कलेक्टर दतिया )

Live Web           TV