आज भी बारिश के साथ ओलावृष्टि की आशंका, 11 से पड़ेगी कड़ाके की ठंड

Scn news india
मनोहर
ग्वालियर चंबल अंचल में आज भी बारिश के साथ ओलावृष्टि के आसार बने हुए हैं। कल से माैसम फिर बदलेगा और बारिश बंद हाे जाएगी। 11 जनवरी से अंचल में कड़ाके की ठंड की शुरुआत हाेगी। वहीं राजस्थान में बने चक्रवातीय घेरे के कारण बीते राेज ग्वालियर के चीनाैर व मुरैना से लगे हिस्साें व छतरपुर, शिवपुरी, दतिया में ओलावृष्टि हुई है। 10 जनवरी तक पश्चिमी विक्षोभ पूर्वी भारत की ओर निकल जाएगा, जिससे बारिश का सिलसिला थमेगा और आसमान साफ हो जाएगा। कोहरा छाने की संभावना रहेगी। 11 जनवरी से उत्तरी हवा की शुरुआत होगी। यह हवा जम्मू-कश्मीर से बर्फीली ठंडक लेकर आएगी, जिससे ठंड की वापसी होगी।
जम्मू-कश्मीर से पश्चिमी विक्षोभ गुजर रहा है। राजस्थान में बना चक्रवातीय घेरा पश्चिमी उत्तर प्रदेश के पास पहुंच गया है। एक ट्रफ लाइन अरब सागर से होते हुए ग्वालियर चंबल संभाग से गुजर रही है। इससे अरब सागर व बंगाल की खाड़ी की नमी संभाग के ऊपर इकट्ठा हो रही है, जिससे बारिश की संभावना बनी हुई है। मुरैना के पास वाले क्षेत्रों में ओलों की संभावना अधिक है। वहीं शहर में शुक्रवार-शनिवार की रात ढाई बजे झमाझम बारिश हुई। बारिश व बादलों के कारण शनिवार को सूरज भी ज्यादा देर तक नहीं निकल सका। शाम को गरज-चमक के साथ रिमझिम बारिश शुरू हो गई। मौसम विभाग के अनुसार अभी ओलों का खतरा नहीं टला है। नौ जनवरी की शाम तक शहर सहित जिले में बारिश के साथ ओलों की संभावना बनी हुई है। 10 जनवरी तक बादल छाएंगे, लेकिन 11 जनवरी को पश्चिमी विक्षोभ कमजोर पड़ने के बाद हवा का रुख उत्तरी होगा, संक्रांति तक कड़ाके की ठंड की दस्तक होगी।
ग्वालियर चंबल संभाग में 24 घंटे में बारिश के साथ ओलावृष्टि के आसार हैं। 11 जनवरी तक पश्चिमी विक्षोभ कमजोर पड़ने से उत्तरी हवा की शुरुआत होगी और रात के तापमान में गिरावट दर्ज होगी। वर्तमान में बादल छाने से दिन में ठंडक बनी हुई है।
Live Web           TV