10 जनवरी से लगेगा बूस्टर डोज, नए रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं

Scn news india

हर्षिता वंत्रप 

भोपाल-बूस्टर डोज की शुरुआत सोमवार 10 जनवरी से हो रही है। सबसे अच्छी बात यह है कि पहले और दूसरे डोज की तरह इस बार कोविन ऐप पर नया रजिस्ट्रेशन नहीं करना होगा । हां अपॉइंटमेंट लेना आवश्यक होगा। हालांकि जिन वरिष्ठ नागरिकों को बूस्टर डोज लगवाना है, वो सीधे टीकाकरण केंद्र पर जाकर ऐसा कर सकते हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने साफ कर दिया है कि नए रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं होगी। सोमवार से हेल्थ केयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स एवं 60 वर्ष से अधिक आयु के ऐसे वरिष्ठ नागरिकगण जो को-मोर्बिड कंडीशन्स से पीड़ित हैं, को कोविड -19 टीकाकरण की प्रि-कॉशन डोज लगाया जायेगा।

उपरोक्त वर्गों के वे सभी नागरिक जिन्हें वैक्सीन की दूसरी डोज 39 सप्ताह या इससे अधिक अवधि पूर्व लगी हैं, प्रि-कॉशन डोज के लिये पात्र होगें । भोपाल जिले में आज दिनांक तक 43 हजार 987 हेल्थ केयर वर्कर्स, 51 हजार 607 फ्रंटलाईन वर्कर्स एवं 60 वर्ष से अधिक आयु के 2 लाख 8 हजार 414 नागरिकों को कोविड वैक्सीन की दो डोजेज़ लगाई जा चुकी हैं। इनमें से 39 सप्ताह पूर्ण हो चुके हेल्थ केयर वर्कर्स, फ्रंटलाईन वर्कर्स तथा 60 वर्ष से अधिक के को-मॉर्बिड नागरिक प्रि-कॉशन डोज के लिये पात्र होगें ।

ऑनसाइट अपॉइंटमेंट के साथ टीकाकरण 10 जनवरी से शुरू होगा

प्रि-कॉशन डोज या बूस्टर डोज की खुराक स्वास्थ्य सेवा और फ्रंटलाइन वर्कर्स के साथ ही 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को 10 जनवरी से दी जाएगी। जिन लोगों को यह टीका लगाना है, वे सीधे किसी भी कोविड-19 टीकाकरण केंद्र में अपॉइंटमेंट ले सकते हैं या सीधे वहां पहुंचकर टीका लगवा सकते हैं। 60 साल और उससे अधिक आयु के नागरिकों को बूस्टर डोज के लिए डॉक्टर से सर्टिफिकेट प्रस्तुत करने की जरूरत नहीं है। हालांकि ऐसे व्यक्तियों को तीसरी खुराक लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श लेने की सलाह दी गई है ।

कोविड-19 वैक्सीन प्रि- कॉशन डोज 92 शासकीय अस्पतालों में हेल्थ केयर वर्कर्स एवं 13 अन्य संस्थाओं में फ्रंटलाइन वर्कर को ऑन- स्पॉट टीका लगाया जाएगा । 60 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिक 38 केन्द्रों पर कोविन पोर्टल पर ऑनलाईन प्री बुकिंग करवाकर टीकाकरण करा सकते हैं । 15 से 18 वर्ष के 15 हजार छात्र-छात्राओं को 81 शालाओं में सोमवार को कोवैक्सीन टीका लगाया जायेगा । कोविड-19 वैक्सीन की प्रिकॉशन डोज वही वैक्सीन होगी जो पहले दो खुराक में दी गई थी। जिन लोगों ने पहले कोवैक्सीन लगी है, उन्हें कोवैक्सीन लगाई जाएगी, जिन्हें कोविशील्ड की दो डोज लग चुकी हैं, उन्हें कोविशील्ड ही लगाई जाएगी।

Live Web           TV