अचानक हुई बारिश ने धान खरीदी केन्द्रो की अव्यवस्थाओ की खोली पोल

Scn news india

संवाददाता सुनील यादव 

लाखो करोड़ो रूपये खर्च कर के गल्ला मंडियों का निर्माण कार्य कराने वाली भारती जनता पार्टी सरकार के शासकीय कर्मचारियों की मनमानी के कारण ख़रीदी केंद्रों में रखी कई कुंटल धान अवस्थाओं की भेंट चढ़ गई दरसअल कटनी जिले के साथ साथ बड़वारा क्षेत्र में भी शासन के द्वारा समर्थन मूल्य पर खुले आसमान के नीचे धान की खरीदी की जा रही है हाल ही में अचानक हुई तेज बारिश ने बड़वारा,रोहनिया,विलायतकला, भुड़सा खरीदी केंद्र में रखी कई कुंटल धान को भीगा कर नष्ट कर दिया है किसानो के मुताबिक बड़वारा नगर में लाखों करोड़ों की लागत से गल्ला मंडी का निर्माण कराया गया है जो बन कर तैयार भी है लेकिन सहकारिता विभाग अधिकारियों के मनमानी के कारण पूंजीपतियों को लाभ पहुचने के लिए निजी वेयर हाउस पर खुले आसमान के नीचे खरीदी केन्द्र संचालित कर दी गई जब कि इसका विरोध भी कई किसानों ने किया था पर अधिकारियों के तानाशाही रवैये के कारण खरीदी केन्द्र का स्थानांतरण नहीं हो सका इसका नतीजा अचानक हुई तेज बारिश ने अवस्थाओ के बीच रखी कई कुंटल धान को चपेट में ले लिया है
वही हुए इस नुकसान पर बड़वारा सहकारिता के प्रबंधक रामसिंह मार्को ने बताया कि बिना मौसम के हुई बारिश ने कई खरीदी केंद्रों पर बचाओ हेतु पर्याप्त साधन न होने की वजह से नुकसान पहुँचा

बाइट-01 प्रबंधक रामसिंह मार्को
बाइट-02 सुनील सिंह जनपद पंचायत सदस्य (किसान)