मध्‍य प्रदेश में अब साफ होने लगा मौसम, लुढ़केगा रात का पारा

Scn news india
मनोहर
भोपाल । पश्चिमी विक्षोभ के कमजोर पड़ने के कारण बुधवार को पश्चिमी मध्यप्रदेश से बादल छंटने लगे हैं। गुरुवार से पूर्वी मप्र का भी मौसम साफ होने लगेगा। उधर हवा का रुख उत्तरी बना रहने से अब रात के तापमान में गिरावट का सिलसिला शुरू होगा। धूप निकलने के कारण गुरुवार से दिन के तापमान में बढ़ोतरी होगी। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक अभी दो दिनों तक सुबह के समय कोहरा छाने की संभावना है।
बुधवार को सुबह साढ़े आठ बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक पचमढ़ी में दो, जबलपुर में 1.2, उमरिया में एक मिलीमीटर बारिश हुई। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक बुधवार को राजधानी का अधिकतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जो सामान्य से छह डिग्रीसे.कम रहा, लेकिन मंगलवार के अधिकतम तापमान 17.2 डिग्री सेल्सियस की तुलना में 1.8 डिग्रीसे. अधिक रहा।
न्यूनतम तापमान 12.4 डिग्रीसे. रिकार्ड किया गया। यह सामान्य से दो डिग्रीसे. अधिक रहा। उत्तर भारत में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के कमजोर पड़ने के कारण बादल छंटने लगे हैं। हवा का रुख उत्तरी बना हुआ है। इस वजह से गुरुवार से न्यूनतम तापमान में गिरावट का सिलसिला शुरू होगा।
तीन सिस्टम अभी भी सक्रिय
वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ पश्चिमी उत्तर प्रदेश पर हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात के रूप में ट्रफ के साथ बना हुआ है। उत्तर प्रदेश और उससे लगे बिहार पर भी हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बना हुआ है। इस चक्रवात से पूर्वी मप्र से होकर तेलंगाना तक एक ट्रफ बना हुआ है। इस ट्रफ के कारण पूर्वी मप्र में कुछ बादल बने हुए हैं। शेष प्रदेश में मौसम साफ होने लगा है। एक-दो जनवरी को एक अन्य कमजोर पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत में प्रवेश करने की संभावना है।