मध्‍य प्रदेश में हवाओं का बदला रुख, ठिठुरन से राहत, एक हफ्ते बाद फिर तीखे होंगे ठंड के तेवर

Scn news india
मनोहर
भोपाल । पिछले तीन-चार दिनों से कड़ाके की ठंड का सामना कर रहे मध्य प्रदेश में अब धीरे-धीरे रात का तापमान बढ़ने लगा है। इससे ठंड से कुछ राहत मिलने लगी है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक अभी रात के तापमान के बढ़ने का सिलसिला जारी रहेगा। उधर उत्तर भारत में वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ मौजूद है। 24 और 26 दिसंबर को दो नए पश्चिमी विक्षोभ का भी उत्तर भारत में आना संभावित हैं। यह दोनों सिस्टम तीव्र आवृति वाले होंगे। इनके असर से उत्तर भारत के पहाड़ों पर जबर्दस्त बर्फबारी के साथ बारिश भी होने की संभावना है। उधर इस दौरान हवाओं का रुख बदलने से मध्य प्रदेश में भी मौसम का मिजाज बदलेगा। बादल छाएंगे और बारिश भी हो सकती है। मौसम साफ होते ही नए वर्ष की शुरुआत में प्रदेश में एक बार फिर ठंड के तेवर तीखे हो सकते हैं।
मौसम विज्ञान केंद्र ने बताया कि बुधवार को राजधानी भोपाल का अधिकतम तापमान 25.3 डिग्रीसे. दर्ज किया गया। यह मंगलवार के अधिकतम तापमान 24.7 डिग्री सेल्सियस की तुलना में 0.6 डिग्री सेल्सियस अधिक रहा। अब हवा का रुख बदलकर पश्चिमी, उत्तर-पश्चिमी होने लगा है। इस वजह से धीरे-धीरे तापमान में इजाफा होने लगा है। अभी चार-पांच दिन तक रात के तापमान में बढ़ोतरी का सिलसिला बना रहने के आसार हैं। मौसम विज्ञान केंद्र ने बताया कि वर्तमान में उत्तर भारत में एक पश्चिमी विक्षोभ मौजूद है। 24 और 26 दिसंबर को आने वाले पश्चिमी विक्षोभ के असर से राजस्थान में प्रेरित चक्रवात बनने के आसार हैं। इसके असर से हवाओं का रुख बदलते ही वातावरण में नमी आने लगेगी। इससे मप्र में बादल छाने लगेंगे। साथ ही कहीं-कहीं बौछारें भी पड़ेंगी। सुबह के समय अधिकतम जिलों में घना कोहरा रहेगा। 30 दिसंबर से मौसम धीरे-धीरे साफ होने लगेगा। इसके बाद एक बार फिर रात के तापमान में गिरावट का दौर शुरू हो जाएगा।